फोर्ब्स की अमीरों की सूची में पहले नंबर पर मुकेश अंबानी, सायरस पूनावाला और दिलीप संघवी ने भी टॉप-10 में मारी एंट्री

फोर्ब्स की अमीरों की सूची में पहले नंबर पर मुकेश अंबानी, सायरस पूनावाला और दिलीप संघवी ने भी टॉप-10 में मारी एंट्री

DESK: यह कहना कहीं से भी गलत नहीं होगा कि दुनिया उन्हीं के इशारों पर चलती है जिनके पास दौलत और शोहरत होती है। ऐसा कहना बहुत हद तक सही भी है क्योंकि दुनिया, खासकर भारत मुकेश अंबानी के इशारों पर चल रही है। मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो भारत की आधी आबादी को सोशल मीडिया पर एक्टिव रखती है। इसके साथ ही जियो टीवी, जियो मार्ट और ए-जियो के जरिए कई लोग जुड़े हुए हैं। इसी तरीके से मुकेश अंबानी पैसों से पैसे बना रहे हैं और अकूत धन-संपत्ति के मालिक बन गए हैं। 

हाल ही में फोर्ब्स ने भारत के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट जारी है। इस लिस्ट में मुकेश अंबानी टॉप पर हैं। इसी लिस्ट के जारी होने के बाद से इनकी चर्चा बढ़ गई है। फिलहाल मुकेश अंबानी के पास 6.27 लाख करोड़ रुपए की संपत्ति है। वहीं, अदाणी ग्रुप के मुखिया गौतम अदाणी दूसरे पायदान पर हैं। अदाणी के पास करीब 3.75 लाख करोड़ रुपए की संपत्ति है। अदाणी ने राधाकिशन दमानी को दूसरी जगह से रिप्लेस किया है। मुकेश अंबानी के कंपनी का नेट ग्रोथ बढ़ने की वजह जियो है तो वही अडानी के कंपनी ने ग्रोथ अपनी दूरदर्शिता के कारण की है जिसके लिए एनर्जी सेक्टर और उसमें भी रिन्युएबल कंपनी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।मोदी सरकार की बिज़नेस पॉलिसी भी अडानी के अनुकूल रही है | 

इन दिग्गज कारोबारियों के बाद तीसरे नंबर पर IT सेक्टर की कंपनी HCL टेक के फाउंडर शिव नाडार हैं। उनकी कुल नेटवर्थ करीब 1.74 लाख करोड़ रुपए है। रिटेल किंग के नाम से मशहूर राधाकिशन दमानी लिस्ट में चौथे स्थान पर है। एवेन्यू सुपर मार्ट यानी डी-मार्ट इन्हीं की कंपनी है।

टॉप-10 में इस बार एंट्री हुई है सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के सायरस पूनावाला और सन फार्मास्युटिकल्स के दिलीप संघवी की. बता दें कि SII कोरोना वैक्सीन का प्रोडक्शन कर रही भारत की सबसे बड़ी कंपनी है। लिस्ट में 10वें पायदान पर सुनील मित्तल एंड फैमली है। इनकी नेटवर्थ करीब 78.12 हजार करोड़ रुपए है।

कोरोना के बावजूद देश में अरबपतियों की संख्या बढ़ी 

एक ओर जहां कोरोना ने देश की अर्थव्यवस्था की कमर को तोड़ दिया है तो वहीं   खास बात यह है कि कोरोना महामारी के बावजूद देश में अमीरों की संख्या बढ़ी है। रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल कुल भारतीय अरबपतियों की संख्या 140 रही। यह पिछले साल 102 थी। अगर सभी 140 अरबपतियों की कुल संपत्ति जोड़ी जाए तो यह करीब 596 अरब डॉलर यानी 44.28 लाख करोड़ रुपए होगी।

मुकेश अंबानी एशिया के भी सबसे अमीर इंसान

मुकेश अंबानी भारत के ही नहीं, एशिया के भी सबसे अमीर शख्स हैं। इनकी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज कई तरह के सेक्टर में काम करती है। इसमें ऑयल एंड गैस, टेलीकॉम, रिटेल सहित अन्य शामिल है। ज्यादातर में रिलायंस मार्केट लीडर भी है। यही वजह है कि मुकेश अंबानी की कंपनियों में कोरोना के बावजूद जबरदस्त निवेश हुआ, जो करीब 2.60 लाख करोड़ रुपए (35 अरब डॉलर) का रहा। 

गौतम अदाणी की संपत्ति 5 गुना बढ़ी

दूसरी ओर पोर्ट और इंफ्रा टायकून के नाम से फेमस गौतम अदाणी की संपत्ति भी तेजी से बढ़ी है। अदाणी इंटरप्राइसेस और अदाणी ग्रीन एनर्जी के शेयरों में रिकॉर्ड बढ़त के कारण इनकी संपत्ति बढ़ रही है। देश के दूसरे सबसे व्यस्त मुंबई एयरपोर्ट में अदाणी ने अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर 74% की।

इसी तरह अदाणी ग्रीन में फ्रांस की एनर्जी कंपनी टोटल को 20% हिस्सेदारी बेचकर 18 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की रकम जुटाई। अदाणी की संपत्ति 2020 से अब तक 5 गुना बढ़ी है। पोर्ट, पावर, रिन्युएबल एनर्जी और गैस ऐसे सेक्टर्स हैं, जो कंज्यूमर से सीधे जुड़े हुए हैं। इसमें अदाणी को अब मार्केट लीडर कहा जा सकता है और इसी के चलते उनका निवेश भी बढ़ा है।


Find Us on Facebook

Trending News