सायबर ठगी के शिकार हो गए पूर्व क्रिकेटर विनोद कांबली, जानिए कितने लाख रुपए की लगी चपत

सायबर ठगी के शिकार हो गए पूर्व क्रिकेटर विनोद कांबली, जानिए कितने लाख रुपए की लगी चपत

DESK : एक समय में भारतीय क्रिकेट टीम का सबसे अहम हिस्सा रहे और भारत रत्न सचिन तेंदुल्कर (Sachin Tendulkar) के बचपन के दोस्त विनोद कांबली (Vinod Kambli) ठगी के शिकार हो गये हैं. इस ठगी को लेकर उन्होंने बांद्रा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करा दी गयी है और अपराधियों की तलाश लगातार की जा रही है। बताया जा रहा है कि साइबर ठगों ने कांबली को एक लाख रुपये की चपत लगायी है।

बैंक अधिकारी बनकर किया फोन

पुलिस ने बताया कि साइबर ठग ने विनोद कांबली को बैंक अधिकारी बनकर फोन किया, फिर उन्हें एक लिंक भेजा. कांबली को साइबर ठग ने लिंक पर क्लिक करने कहा, भारत के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज ने जैसे ही लिंक पर क्लिक किया, उनके बैंक खाते से एक रुपये निकल गये। इस बात की जानकारी कांबली को तब हुई, जब उनके फोन पर पैसे निकाले जाने का मैसेज आया। उस घटना के बाद कांबली ने इसकी जानकारी बांद्रा पुलिस को दी और मामला दर्ज कराया।

भारत के स्टार खिलाड़ियों में रहे हैं शुमार

एक समय में विनोद कांबली भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी माने जाते थे। उन्हें तेंदुल्कर से बेहतर क्रिकेटर बताया गया था। लेकिन, उनका क्रिकेट करियर लंबा नहीं चला।  विनोद कांबली ने 1991 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत की थी. उन्होंने 18 अक्टूबर 1991 को वनडे में डेब्यू किया और आखिरी वनडे 29 अक्टूबर 2000 में खेला था. जबकि 29 जनवरी 1993 में टेस्ट में डेब्यू किया और आखिरी टेस्ट न्यूजीलैंड के खिलाफ 8 नवंबर 1995 में खेला था। कांबली ने टीम इंडिया के 17 टेस्ट और 104 वनडे मैच खेले. जिसमें उन्होंने वनडे में दो शतक और 14 अर्धशतक की मदद से 2477 रन बनाये, तो 4 शतक, दो दोहरे शतक और 3 अर्धशतक की मदद से टेस्ट में 1084 रन बनाये


Find Us on Facebook

Trending News