मेडिकल कॉलेज में नामांकन के नाम पर करोड़ों रुपये ठगने वाला जालसाज पटना में गिरफ्तार, लंबे समय से था फरार

मेडिकल कॉलेज में नामांकन के नाम पर करोड़ों रुपये ठगने वाला जालसाज पटना में गिरफ्तार, लंबे समय से था फरार

पटना. दानापुर स्थित रूपसपुर थाने की पुलिस ने पटना के कोर्ट परिसर से कई महीनों से फरार एक जालसाज को गुरुवार को धर दबोचा है। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद जालसाज अपने को राजनीतिक पहुंच का हवाला देकर पुलिस को ही धमकाने लगा। पुलिस की सख्त के आगे आरोपी की एक भी न चली। रूपसपुर थाने की पुलिस ने जालसाज को दबोच कर थाने लाया।

बताया जा रहा है कि गिरफ्तार जालसाज बिहार ही नहीं, बल्कि दूसरे राज्यों में भी कई लोगों को करोड़ों रुपये का चूना लगा चुका है। मेडिकल कॉलेज में नामांकन के नाम पर करोड़ों रुपये ठगा था। कई राज्यों की पुलिस इस जालसाज की तलाश में कई महीनों से छानबीन कर रही थी। जालसाज की गिरफ्तारी की सूचना मिलते ही कई लोग थाना परिसर पहुंचकर थाना में अपनी शिकायत दर्ज कराने लगी है।

बताया जा रहा है कि पटना निवासी राहुल तिवारी गुरुवार को अपने भाई सागर तिवारी का जमानत लेने न्यायालय पहुंचा था। राहुल तिवारी के न्यायालय पहुंचने की भनक रूपसपुर थाने को किसी तरह लग गई। सूचना मिलते ही रूपसपुर थाने की पुलिस ने एक टीम गठन कर सादे वर्दी में राहुल तिवारी की गिरफ्तारी के लिए घेराबंदी शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि पुलिस के इस घेराबंदी की सूचना राहुल तिवारी को लग गई थी, लेकिन राहुल तिवारी पुलिस की गिरफ्त से बच निकलता, इसके पहले पुलिस ने उन्हें धर दबोचा है।

बताया जा रहा है कि राहुल तिवारी ने पटना सहित बिहार के कई जिलों के अलावा कोलकाता, झारखंड, दिल्ली, उत्तर प्रदेश के लोगों से उनकी चार चक्के की गाड़ी सरकारी ऑफिस में लगवाने का झांसा देकर वह गाड़ी को लेकर भाग निकलता था।


Find Us on Facebook

Trending News