होमगार्ड का M.Tech पास बेटा बना शातिर साइबर लुटेरा, 1 करोड़ 30 लाख का फर्जीवाड़ा करने का आरोप, कार्रवाई के लिए पहुंची हरियाणा पुलिस

होमगार्ड का M.Tech पास बेटा बना शातिर साइबर लुटेरा, 1 करोड़ 30 लाख का फर्जीवाड़ा करने का आरोप, कार्रवाई के लिए पहुंची हरियाणा पुलिस

BAGHA : होमगार्ड की नौकरी करनेवाले पिता ने बड़ी मेहनत से अपने बेटे को एमटेक की पढ़ाई कराई, उम्मीद थी कामयाबी की ऊंचाईयों को छूएगा। लेकिन यह सपने टूट गए, जब यह जानकारी मिली कि इंजीनियर बेटा एक शातिर साइबर लुटेरा बन गया है और उसने 1.30 करोड़ जैसी बड़ी रकम का फर्जीवाड़ा किया है। अब गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार चल रहा है। 

मामला बगहा जिला के चौतरवा थाने से जुड़ा है। जहां हरियाणा से 10 सदस्यीय बुधवार की अहले-सुबह पहुंची थी। बताया गया कि टीम थाने में तैनात होमगार्ड मारकंडेय सिंह के बड़े बेटे सुमंत सिंह की तलाश में पहुंची थी। लेकिन वह पहले से ही फरार था। वहीं पुलिस ने मारकंडेय के छोटे बेटे को हिरासत में लिया है। 

हरियाणा से आई पुलिस ने बताया- 'मामला साइबर क्राइम से जुड़ा है। इसकी जांच की जा रही है। एक अपराधी को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। उसको रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रहा है। उसी ने अन्य आरोपियों का भी नाम बताया है। जिसके पहचान पर छापेमारी की जा रही है। आरोपी सुमंत के ऊपर 1 करोड़ 30 लाख का फर्जीवाड़ा करने का आरोप लगा है। टोटल फॉर्जरी इंटरनेट के माध्यम से हुआ है।' वहीं, दोनों युवकों पर गोल्ड में भी हेरफेर करने का आरोप लगा है।

चौतरवा थाना में पदस्थापित सब इंस्पेक्टर DC राम ने बताया- 'साइबर अपराध से जुड़ा मामला है। हरियाणा पुलिस ने बुधवार अहले सुबह मार्कंडेय सिंह के घर पर छापेमारी कर उनके छोटे बेटे सुगंध सिंह को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार करने के बाद हरियाणा पुलिस ने चौतरवा थाना में आकर मामले को लिखित रूप से जानकारी दी है।'

एमटेक पास है सुमंत, लेकिन नौकरी छोड़ बना साइबर अपराधी

सुमंत सिंह पेशे से M.Tech इंजीनियर है। गुड़गांव में किसी प्राइवेट संस्थान में नौकरी किया करता था, लेकिन बाद में जॉब छोड़कर साइबर अपराध के धंधे में जुड़ गया। बताया जाता है कि सुमंत ने ही छोटे भाई सुगंध को कई बार हरियाणा बुलाया और अपना साथी बना लिया।

छोटे बेटे ने बनवा रखी थी होमगार्ड की फर्जी आई-कार्ड

आरोपी के पिता मारकंडेय सिंह होमगार्ड का जवान हैं, जो चौतरवा थाने में चालक का काम करते हैं। उसके घर की तलाशी ली गई। इस दौरान कई संदिग्ध दस्तावेज भी मिले। जिसे हरियाणा पुलिस जब्त कर अपने साथ ले गई। तलाशी के दौरान सुगंध सिंह का एक फर्जी पहचान पत्र मिला, जो होमगार्ड का था। जिस पर सुगंध सिंह अपना फोटो लगाकर होमगार्ड का जवान लिखवाया था। यह कार्ड पूरी तरह से डुप्लीकेट था।

बताया जा रहा है कि दोनों भाई इतने शातिर हैं कि अपने नाम से इन्होंने कोई संपत्ति नहीं रखी है। यहां तक कि गाड़ी भी अपने रिश्तेदारों के नाम से ही खरीदते हैं।




Find Us on Facebook

Trending News