गया में फर्जीवाड़ा कर युवक ने लिखवाया लाखों की जमीन, शिकायत लेकर पुलिस के पास पहुँची पीड़िता

गया में फर्जीवाड़ा कर युवक ने लिखवाया लाखों की जमीन, शिकायत लेकर पुलिस के पास पहुँची पीड़िता

GAYA : जिले में फर्जीवाड़ा करते हुए गाँव के ही युवक द्वारा एक महिला से मकान लिखवाने का मामला सामने आया है। घटना शेरघाटी थाने से जुड़ा हुआ है। बत दे कि थाना क्षेत्र के विशुनपुरा गांव के रहने वाली प्रिया देवी पति राम विजय पासवान और बहन राजकुमारी देवी से मां के मृत्यु प्रमाण पत्र बंगाली से हिंदी में करवाने के नाम पर संतोष कुमार नामक युवक ने सादे कागज पर हस्ताक्षर करा लिया। इसके बाद घर घर मकान समेत ढाई कट्ठा जमीन को फर्जीवाड़े तरीके से अपने नाम करा लिया।


इसकी जानकारी देते हुए पीड़ित महिला प्रिया देवी ने बताया कि बिशुनपुरा गांव के ही रहने वाला संतोष नामक व्यक्ति ने मेरे साथ ऐसा किया है। उसे हमने अपने मां के मृत्यु प्रमाण पत्र को सुधार करवाने के लिए दिया था। उसने मुझसे सादे कागज पर यह कहकर लिखवाया की सुधार करने के लिए लिखना पड़ेगा। लिखकर मैं अपने ससुराल धनबाद चली गई थी। कुछ दिन बाद वापस आये तो मेरा मकान जमींदोज हो गया था। जब हमने पूछा तो बोला गया कि इसको तुम बेच चुकी हो। इसी तरीके से सादे कागज पर हस्ताक्षर करवा कर मेरा ढाई कट्ठा का मकान समेत जमीन फर्जी तरीके से अपने नाम पर करवा लिया है।

इस मामले को लेकर पीड़ित महिला ने स्थानीय थाने में आवेदन दिया है। लेकिन पुलिस द्वारा कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है। इस मामले की शिकायत को लेकर पीडिता ने अनुमंडल पदाधिकारी अनिल कुमार रमन के पास लिखित आवेदन देते हुए शिकायत की है।

सबसे बड़ी बात यही है कि आखिरकार महिला द्वारा जमीन जब बेचा ही नहीं गया तो म्युटेशन कैसे हो गया और उस जमीन की रजिस्ट्री कैसे हुई। सवालिया निशान है कि आखिरकार इसमें किसकी लापरवाही कहा जाए। पदाधिकारी की या अंचल में कार्य करने वाले कर्मचारी की। जमीन का मालिकाना हक किसी और का है। इसके बावजूद किसी और के द्वारा इसे फर्जीवाड़े तरीके से लिखवा लिया जाता है।

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News