नवादा में दबंगों ने पहले की हत्या फिर बलपूर्वक करवा दिया अंतिम संस्कार, अब पत्नी ने पुलिस से लगाई न्याय की गुहार

नवादा में दबंगों ने पहले की हत्या फिर बलपूर्वक करवा दिया अंतिम संस्कार, अब पत्नी ने पुलिस से लगाई न्याय की गुहार

नवादा. जिले के कौआकोल थाना क्षेत्र के छबैल पंचायत के खैरा गांव में यमुना मांझी नामक व्यक्ति की संदेहास्पद मौत हो गई। मृतक की पत्नी ने गांव के ही एक व्यक्ति पर जबरन घर से बुलाकर हत्या करने का आरोप लगाया है। घटना 21 अक्टूबर की ही बताई जा रही है। घटना के तीन दिन बाद 24 अक्टूबर को मृतक की पत्नी ने कौआकोल थाना में एक नामजद समेत 15-20 अज्ञात लोगों के विरुद्ध लिखित आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज कराई है।

कौआकोल थाना में दिये गये आवेदन में खैरा गांव निवासी यमुना मांझी की पत्नी मेडी देवी ने गांव के ही विकास सिंह पर अपने पति की हत्या का आरोप लगाते हुए कहा कि 21 अक्टूबर को सुबह 8 बजे विकास सिंह उनके घर पर आया और उनके पति को जबरन घर से खींचकर ले गया और नाटी नदी के किनारे ले जाकर हत्या कर दिया। 11 बजे दिन में ग्रामीणों द्वारा शोरगुल मचाए जाने के बाद जब वह घटनास्थल पर पहुंची तो देखा कि पति मृत पड़ा हुआ है। इसके बाद वह शव को अपने घर ले गई। कुछ ही देर में विकास सिंह के साथ 15-20 की संख्या में दबंग किस्म के लोग वहां आ धमके और पुलिस पहुंचने का झांसा देकर बलपूर्वक शव को जलवा दिया और धमकी दी कि घटना के बारे में किसी को जानकारी दी तो पूरे परिवार को जान मार देंगे।

घटना के बाद पीड़ित महिला ने कौआकोल थाने में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। बताया जाता है कि युवक घर का अकेला ही कमाने वाला सदस्य था तथा उसके उपर पूरे परिवार का भरण-पोषण करने की जिम्मेदारी थी। उसकी मौत हो जाने से पूरा परिवार बेसहारा हो रहा है। घटना के बाद गांव में तरह तरह की चर्चाओं का दौर जारी है। इधर कौआकोल पुलिस आवेदन प्राप्त होने के साथ ही मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस की जांच पड़ताल के बाद ही मामला पर से पर्दा उठ सकता है।

Find Us on Facebook

Trending News