विधान परिषद चुनाव में सारण में 55 सौ पंचायत प्रतिनिधि करेंगे मतदान, 20 केन्द्रों पर होगी वोटिंग

विधान परिषद चुनाव में सारण में 55 सौ पंचायत प्रतिनिधि करेंगे मतदान, 20 केन्द्रों पर होगी वोटिंग

CHHAPRA : भारत निर्वाचन आयोग ने बिहार विधान परिषद् के स्थानीय प्राधिकार द्धिवार्षिक निर्वाचन-2022 कार्यक्रम की घोषणा कर दी है। इसके साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गयी है। चुनाव के कार्यक्रम की जानकारी मीडिया कर्मियों को देने के लिए 03 मार्च 2022 को जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिला पदाधिकारी सारण  राजेश मीणा के द्वारा संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया। कार्यक्रम की जानकारी देते हुए जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि अधिसूचना जारी किये जाने की तिथि 09 मार्च 2022, बुधवार को है।

यह है चुनाव कार्यक्रम

नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये जाने की अंतिम तिथि 16.03.2022, बुधवार, नाम निर्देशन पत्र की संवीक्षा की तिथि 17.03.2022, गुरुवार, अभ्यर्थिता वापसी की अंतिम तिथि 21.03.2022 सोमवार, मतदान की तिथि 04.04.2022 को पूर्वाह्न 08:00 बजे से अपराह्न 04:00 बजे तक होगी। मतगणना  07.04.2022 गुरुवार को होगा एवं निर्वाचन प्रक्रिया 11.04.2022 को पूर्ण कर लिया जाएगा।  

जिला निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय में दाखिल होगा नामांकन

प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र का द्धिवार्षिक निर्वाचन-2022 के लिए नाम निर्देशन पत्र निर्वाची पदाधिकारी के कार्यालय कक्ष में दाखिल किया जाएगा। चुनाव हेतु सदर छपरा, सोनपुर एवं मढ़ौरा के अनुमंडल पदाधिकारी का सहायक निर्वाची पदाधिकारी बनाया गया है। नाम निर्देशन पत्र कार्यालय अवधि में 11:00 बजे पूर्वाह्न से 03:00 बजे अपराह्न तक दाखिल किया जा सकता है। एनआई एक्ट के तहत घोषित अवकाश के दिन नामांकन दाखिल नही किया जा सकेगा।


5500 वोटर करेंगे अपने मत का इस्तेमाल

बिहार विधान परिषद् के स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र का द्धिवार्षिक निर्वाचन-2022 हेतु मतदाताओं की संख्या-5451 है। हालांकि वोटरों की संख्या में वृद्धि या कमी हो सकती है क्योंकि अभी इसमें नियमानुसार जांच प्रक्रिया चल रही है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सारण के द्वारा बताया गया कि जिला के सभी प्रखंड मुख्यालय  में मतदान केन्द्र स्थापित किया जाएगा। इस प्रकार सारण जिला में कुल मतदान केन्द्रों की संख्या-20 होगी। 

आचार संहिता का उल्लंघन पड़ेगा महंगा

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन संबंधी प्रेस नोट जारी करने के साथ ही पूरे जिला में आदर्श आचार-संहिता प्रभावी हो गयी है। इसके उल्लघन करने पर सुसंगत कानूनी कार्रवाई करने का प्रावधान एवं लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी। भारत निर्वाचन आयोग से प्राप्त दिशा-निर्देश के अनुसार पूरी चुनाव प्रक्रिया में कोविड-19 के गाइड लाईन का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित किया  जाना चाहिए।

वहीँ भागलपुर के डीएम सुब्रत सेन ने बताया कि भागलपुर सह बांका स्थानीय प्राधिकार के द्वी बार्षिक निर्वाचन 2022 में कुल 28 मतदान केंद्र हैं। जबकि कुल मतदाताओं की संख्या तकरीबन 6 हजार 6 सौ 10 है। निर्वाची पदाधिकारी डीएम हैं और सहायक निर्वाची पदाधिकारी के तौर पर भागलपुर, कहलगाँव, नवगछिया और बांका के एसडीओ रहेंगे। बिहार परिषद के स्थानीय प्राधिकार में चयन के लिए जो वोटर होंगे।  उनमें पंचायत प्रतिनिधि, नगर निकाय प्रतिनिधि, एमपी, एमएलए और एमएलसी वोट डालेंगे।

छपरा से संजय भारद्वाज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News