बिहटा में वर्दी का इकबाल खत्म, बेखौफ अपराधियों ने सरेराह शख्स को घेरकर मारी गोली, हालत नाजुक

बिहटा में वर्दी का इकबाल खत्म, बेखौफ अपराधियों ने सरेराह शख्स को घेरकर मारी गोली, हालत नाजुक

PATNA : राजधानी पटना के बिहटा में अपराधियों के बीच पुलिस का क्या खौफ बचा है, ये बात अब किसी से छिपी नहीं है। बुधवार की रात बिहटा पुलिस को ठेंगे पर रखते हुए अपराधियों ने फिर से खुल्लम खुला खूनी खेल खेला है। बताया जाता है कि बिहटा के भगवतीपुर मोर के पास अपराधियों ने पटना से लौट रहे स्कूटी सवार शख्स को घेरकर गोली मार दी और मौके वारदात से हथियार चमकाते हुए फरार हो गये। गोली लगने से घायल बिहटा के मुर्गियाचक निवासी मुकेश कुमार को स्थानीय नागरिकों ने आनन फानन में इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। 

वारदात के जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल पर रस्मी कार्रवाई करने पहुंची पुलिस वारदात के मोटिव को लेकर जांच करने की बात कह रही है। बिहटा में तीन दिन के अंदर ये दूसरे वारदात ने बिहटा पुलिस की टेंशन को बढ़ा दिया है। सरेआम हुई ये तीन दिन के अंदर ये दूसरी वारदात से लोगों में पुलिस के खिलाफ तेज गुस्सा है। वही, बिहटा थानेदार सनोवर खान ने कहा कि घटना के पीछे का कारण अभी स्पष्ट नहीं है। हम अपराधियों को पकड़ने के लिए काम कर रहे हैं। 

मालूम हो कि तीन दिन पहले बिहटा के सिकंदरपुर में भूमि विवाद को लेकर दो गुटों में अंधाधुंध फायरिंग हुई थी। इसमें गोली लगने से हरेंद्र वर्मा की मौत हो गयी थी। पुलिस ने मौक-ए-वारदात से 16 खोखा बरामद किया था। घटना के विरोध में लोगों ने आरा-पटना मुख्य मार्ग को सिकंदरपुर के पास दिनभर जाम कर दिया था और बिहटा पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी किए थे। 

लगातार हो रहे क्राइम के बाद उठ रहे सवाल

बिहटा में शायद ही ऐसा कोई दिन होगा जब क्राइम की कोई न्यूज़ सामने ना आई हो। भले ही बिहटा पुलिस लगातार अपराधियों पर शिकंजा कस रही हो, लेकिन बिहटा में क्राइम के मामलों में पिछले कुछ समय में बढ़त्तरी ही हुई है। इसके पीछे प्रमुख कारण क्या है? क्यों अपराधियों में डर नहीं है? क्यों सरेआम ही अपराध करने में भी अपराधी गुरेज नहीं कर रहे? 

अब फिर से खौफ में बिहटा वासी

बिहटा के लोग अब कहने लगे हैं कि हम खौफ में जी रहे हैं और सरकार सिर्फ अधिकारियों को निर्देश देने में लगी है!


Find Us on Facebook

Trending News