जीतनराम मांझी कर रहे हैं अहम बैठक, नीतीश और मोदी सरकार दोनों को घेरने का तय करेंगे एजेंडा

जीतनराम मांझी कर रहे हैं अहम बैठक, नीतीश और मोदी सरकार दोनों को घेरने का तय करेंगे एजेंडा

पटना. पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी की पार्टी हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) सेक्यूलर की अहम बैठक मंगलवार को दिल्ली में हो रही है. इस बैठक में पार्टी के भविष्य से जुड़े कई अहम निर्णय लिए जाएंगे. बिहार में नीतीश सरकार के साथ किस प्रकार से बेहतर तालमेल करना है और अपने लिए मजबूत राह बनानी है इस पर भी चर्चा हो सकती है. इसी तरह केंद्र की मोदी सरकार के सामने भी कुछ ऐसी मांग रखेंगे जिससे पार्टी आम जन में एक संदेश देने में सफल हो. आने वाले समय में किस प्रकार से जनाधार को मजबूत किया जाए और राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी के विस्तार की रणनीति भी बनाई जाएगी. दरअसल हम की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक नई दिल्ली में हो रही है. इसमें पार्टी ने अपने मुख्य एजेंडे तय कर रखे हैं. इन पर जीतन राम मांझी के नेतृत्व में मुहर लगाई जाएगी. 

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में 10 मुख्य एजेंडे तय किए गए हैं. इसमें गरीब सवर्णों को आरक्षण के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के आए निर्णय पर चर्चा की जाएगी. साथ ही दिल्ली में होने वाले निकाय चुनाव में हम के उतरने पर रणनीति बनाई जाएगी. सबसे अहम मुद्दे के रूप में निजी क्षेत्रों में आरक्षण की वकालत, न्यायपालिका में आरक्षण, केंद्रीय सचिवालय में उच्च पदों पर आरक्षण के विषय महत्वपूर्ण हैं. 


इसी तरह प्रवासी मजदूरों के लिए अलग से सरकारी संस्थान एवं उनकी समस्याओं के समाधान के लिए केंद्रीय प्रवासी मजदूर आयोग के गठन पर प्रस्ताव लाया जाएगा. प्रवासियों के उपचार हेतु 24 घंटे काम करने वाला प्रवासी स्वास्थ्य सेल का निर्माण पर चर्चा होगी. इसमें हम का मनाना है कि एक ही जगह दिल्ली के सारे अस्पतालों के बेड सहित अन्य प्रकार की हर जानकारी उपलब्ध हो. जीतन राम मांझी की पार्टी इस बैठक में दशरथ मांझी, श्रीकृष्ण सिंह और कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने की मांग करेगी. बिहार में वसगित पर्चा, सीलिंग जमीन, बिहार सरकार के जमीन एवं भूदान की जमीन के समस्या के लिए जिलास्तर पर न्यायालय निर्माण की मांग होगी. साथ ही पार्टी की सदस्यता अभियान एवं सम्मेलन को लेकर भी चर्चा की जाएगी. 

जीतन राम मांझी के बेटे संतोष सुमन मौजूदा समय में बिहार सरकार में मंत्री हैं. ऐसे में पार्टी सरकार में मजबूती से अपनी हिस्सेदारी बनाने पर भी अहम चर्चा कर सकती है.


Find Us on Facebook

Trending News