कद्दू की खेती के लिए पहचान बना रहा है कटिहार, छठ व्रत के लिए तीन माह पहले से हो जाती है तैयारी शुरू, दूसरे राज्यों में भी होती है सप्लाई

कद्दू की खेती के लिए पहचान बना रहा है कटिहार, छठ व्रत के लिए तीन माह पहले से हो जाती है तैयारी शुरू, दूसरे राज्यों में भी होती है सप्लाई

KATIHAR : महान छठ व्रत में कद्दू का बड़ा ही महत्व माना जाता है। इससे बनी सब्जी का सेवन करने के बाद व्रती छठ पर्व का आरंभ करती हैं। ऐसे में कद्दू की खेती बहुत ही महत्वपूर्ण हो जाती है। जिसमें कटिहार के किसान तेजी के साथ अपनी पहचान बनाने में कामयाब हुए हैं। आस्था के महापर्व कद्दू की खेती करने वाले किसानों के लिए वरदान साबित हो रहा है।

 महापर्व के शुरुआत कद्दू भात के अनुष्ठान के साथ शुरू होता है, ऐसे में बाजार के डिमांड को पूरा करने के लिए बड़ी मात्रा में कद्दू की जरूरत होता है,बाजार के इसी जरूरत को देखते हुए कटिहार कोढ़ा और राजवाड़ा के किसान छठ के दो-तीन महीने पहले से ही इसकी तैयारी में जुट जाते हैं। यहां के किसानों ने बताया कि लगभग  सौ एकड़ में कद्दू की खेती होता है और यहां की कद्दू सिर्फ कटिहार जिले में ही नहीं बल्कि आसपास के जिले के साथ-साथ झारखंड तक भेजा जाता है।

पर्व के लिए मुफ्त में भी करते हैं वितरण

 एक और बड़ी बात यह भी है कि किसान आस्था के इस महापर्व में जिन छठ व्रतियों को ऊंचे दामों के कारण कद्दू खरीदनी में दिक्कत होता है वे खेत तक आने से उन लोगों को मुफ्त में भी कद्दू उपलब्ध करवा देते है,ऐसे में कद्दू किसानों के लिए वरदान साबित होने वाले महापर्व के मौके पर कद्दू की खेती करने वाले  किसानों काफी खुश हैं। 


Find Us on Facebook

Trending News