मोदी ने 'ललन' को चिढ़ाया ! पता है न...आप 43 MLA वाली पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं ? कौन ललन सिंह...हमने तो 1995 में नाम ही सुना

मोदी ने 'ललन' को चिढ़ाया ! पता है न...आप 43 MLA वाली पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं ? कौन ललन सिंह...हमने तो 1995 में नाम ही सुना

PATNA: अमित शाह ने ललन सिंह को नया-नया बताकर मजाक उड़ाया था। इसके बाद जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष पिछले 24 घंटे से अब तक कई दफे गृह मंत्री अमित शाह पर हमला कर चुके हैं. आज भी तीन-तीन बार वीडियो जारी कर ललन सिंह ने अपनी भड़ास निकाली है। अब सुशील मोदी ने ललन सिंह को जवाब दिया है कि और कहा कि आप किस आंदोलन में थे...हमने तो आपका नाम ही 1995 में पहली दफे सुनी थी। सुशील मोदी ने यहां तक कह दिया कि ललन जी,आप भूल गये क्या कि आप 43 विधायकों वाली पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और अमित शाह 1300 विधायकों वाली पार्टी के राष्ट्रीय अद्यक्ष रह चुके हैं।

बीजेपी की बदौलत आप सांसद बने

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने कहा कि महागठबंधन के नेताओं को लग रहा था कि अमित शाह के सीमांचल दौरे में वे हिंदू-मुसलमान के बीच तनाव पैदा करने वाली बातें करेंगे .लेकिन इन लोगों को घोर निराशा हुई. अपने पूरे भाषण में उन्होंने ना हिंदू का नाम लिया ना मुसलमान का. इससे बौखला कर जनता दल यूनाइटेड के नेता अमित शाह पर अनर्गल टिप्पणी कर रहे हैं. सुशील मोदी ने कहा कि ललन जी...आप भूल जाते हैं. आप एक बार भी एमएलए का चुनाव लड़ने का हिम्मत नहीं कर पाए. अमित शाह पांच बार के विधायक हैं. एक बार तो डेढ़ लाख वोट से चुनाव जीते थे. लोकसभा का चुनाव 5.5 लाख वोट से जीते हैं. आप तीन बार सांसद बने तो भाजपा की कृपा से बने है. अगर बीजेपी नहीं होती तो आप एमपी नहीं बनते. आप 2014 में अकेले लड़े तो 1 लाख वोट से चुनाव हार गए.

छोटी मुंह बड़ी बात करना बंद करें

सुशील मोदी ने ललन सिंह को चिढ़ाते हुए कहा कि ललन जी....आप उस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, जिसके मात्र 43 विधायक हैं.अमित शाह उस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे, जिसके पास 1300 विधायक हैं. आप अपने को किससे तुलना कर रहे हैं . जेपी आंदोलन में तो आप थे ही नहीं .कौन लल्लन सिंह....हम तो आपका नाम 1995 में जानें. छोटी मुंह बड़ी बात मत करिए .अमित शाह देश के कम उम्र के गृह मंत्री हैं. उनके खिलाफ ओछी टिप्पणी करना बंद करें। 

 

Find Us on Facebook

Trending News