'चंद्रशेखर' पर एक्शन नहीं ! JDU की मांग को 'तेजस्वी' ने किया खारिज, कहा- बेकार की बातें हैं, यह कोई एजेंडा है क्या...

'चंद्रशेखर' पर एक्शन नहीं ! JDU की मांग को 'तेजस्वी' ने किया खारिज, कहा- बेकार की बातें हैं, यह कोई एजेंडा है क्या...

PATNA: महागठबंधन की सरकार बनने के छह महीने के भीतर ही राजद-जेडीयू में आर-पार की लड़ाई छिड़ गई है। नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू को राजद अब बख्शने के मूड में नहीं है। राजद विधायक सुधाकर सिंह व शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़ी जेडीयू को आज डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने साफ बता दिया. तेजस्वी ने क्लियर कर दिया कि रामचरितमानस पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले शिक्षा मंत्री पर कार्रवाई की बात फालतू है. डिप्टी सीएम अब यह सवाल सुनना भी पसंद नहीं कर रहे. 

नीतीश की मांग को तेजस्वी ने किया खारिज 

पटना में मीडिया से बात करते हुए तेजस्वी यादव ने अपनी मंशा साफ कर दी। उनसे पूछा गया कि सुशील मोदी ने कहा कि नुपुर शर्मा ने जब आपत्तिजनक टिप्पणी की थी तो भाजपा ने उन पर कार्रवाई किया था. आपको भी चंद्रशेखर के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। इस पर तेजस्वी यादव ने साफ कर दिया कि कार्रवाई नहीं होगी. उन्होंने कहा, ''हम उनकी बातों का जवाब नहीं देना चाहते हैं. यह सब कोई एजेंडा नहीं है, बेकार की बातें हैं. यह सब कितना दिन तक एक ही बात को खींचते रहिएगा. यह कोई एजेंडा है क्या...।''

बता दें, शिक्षा मंत्री चंद्रशेखऱ ने रामचरितमानस को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि यह ग्रंथ नफरत फैलाने वाला है. शिक्षा मंत्री के इस बयान के बाद देशभर में बवाल मच गया है. राजद की सहयोगी जेडीयू ने भी इस पर गहरी नाराजगी जताई और चंद्रशेखऱ के खिलाफ एक्शन लेने को कहा. लेकिन तेजस्वी यादव आज दूसरी दफे शिक्षा मंत्री के पक्ष में खड़े दिखे. अब साफ हो गया है कि राजद नेतृत्व न तो सुधाकर सिंह पर कोई कार्रवाई करेगा और न ही चंद्रशेखऱ पर. अब देखना होगा कि तेजस्वी के इंकार के बाद जेडीयू नेतृत्व का अगला कदम क्या होता है. 


Find Us on Facebook

Trending News