वैशाली में कुख्यात चन्दन सिंह 3 गुर्गों के साथ गिरफ्तार, हथियार और जिन्दा कारतूस बरामद

वैशाली में कुख्यात चन्दन सिंह 3 गुर्गों के साथ गिरफ्तार, हथियार और जिन्दा कारतूस बरामद

VAISHALI : जिले में डीआईओ को बड़ी सफलता हाथ लगी है। कुख्यात चंदन सिंह को पुलिस ने 3 गुर्गों के साथ गिरफ्तार किया है। चंदन सिंह की गिरफ्तारी उसके घर से की गई है। एक दर्जन से ज्यादा आपराधिक मामले में चंदन सिंह की पुलिस को तलाश थी। बताया गया कि डीआईओ को गुप्त सूचना मिली थी कि चंदन सिंह नगर थाना क्षेत्र के रामभद्र स्थित अपने घर पर अपने गुर्गों के साथ आपराधिक योजन बना रहा है। सूचना के आधार बड़ी संख्या में मौके पर पहुंची पुलिस ने चंदन सिंह के घर को चारों तरफ से घेर लिया। 

इसी बीच घर से भागने के क्रम में चंदन सिंह और उसके साथियों को पुलिस ने खदेड़ कर पकड़ा। जिम में चंदन सिंह अलावा एसडीओ रोड अंदर किला का रहने वाला गौतम कुमार उर्फ मिट्ठू, नगर थाना क्षेत्र के जोहरी बाजार का रहने वाला हर्ष कुमार व नगर थाना क्षेत्र के हेला बाजार का रहने वाला राणा सिंह की गिरफ्तारी की गई। पुलिस द्वारा  तलाशी लेने के बाद इनके पास से 2 लोडेड पिस्टल, 100 चक्र जिंदा कारतूस, 4 मार्गजिन, 3 वॉकी - टॉकी, 5 मोबाईल, एक 750 एमएल विदेशी शराब की बॉटल व 3 स्वर्णाभूषण बरामद किया गया। गिरफ्तार चंदन सिंह के ऊपर अकेले नगर थाना में हत्या सहित 9 आपराधिक मामले दर्ज है। इसके अलावे सदर थाना में 2 और भगवानपुर थाना में एक आपराधिक मामला दर्ज है। चंदन सिंह की गिरफ्तारी के बाद वैशाली एसपी मनीस नगर थाना पहुंचे थे। जहां उन्होंने बताया कि वांटेड अपराधियों के गिरफ्तारी की योजना बनाई जा रही थी। इसी क्रम में गुप्त सूचना मिली थी कि चंदन अपने घर पर है। इसके बाद एक टीम बनाकर छापेमारी की गई और चंदन के साथ तीन अन्य लोगों की गिरफ्तारी की गई है।


गिरफ्तार चंदन सिंह का लंबा चौड़ा अपराधिक इतिहास रहा है। यह मर्डर केस में भी वांटेड था। पुलिस गिरफ्तार आरोपी से पूछताछ कर रही है। वहीं अन्य आरोपियों का आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है। बताते चलें की गिरफ्तार चंदन सिंह इसके पहले भी कई बार अलग-अलग मामलों में गिरफ्तार हो चुका है। गिरफ्तार चंदन सिंह के भाई सुशील सिंह कि अपराधियों ने दिनदहाड़े हत्या कर शहर में सनसनी फैला दी थी। जिसके बाद से लगातार चंदन सिंह सुर्खियों में है। भाई की हत्या होने के बाद चंदन सिंह शहर में हुए एक चर्चित हत्याकांड का आरोप बना था। कैसे कहा जा सकता है कि वैशाली पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी कर नि:संदेह अपना काम करती है। लेकिन न्यायालय में साक्ष्य के अभाव में अक्सर आरोपी को बेल हो जाती है। ऐसे में आसानी से अपराधी कैसे बेल पर बाहर नहीं आपाए इस और भी पुलिस को ध्यान देने की जरूरत है। 

वैशाली से राजकुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News