पितृपक्ष मेले में विदेशी शराब के किया जा रहा है पितरों का पिंडदान, सामने आई तस्वीरें

पितृपक्ष मेले में विदेशी शराब के किया जा रहा है पितरों का पिंडदान, सामने आई तस्वीरें

GAYA : दो साल बाद गया में पितृपक्ष मेले का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें देश के कई राज्यों सहित विदेशों से भी लोग अपने पितरों की शांति के लिए पिंडदान करने के लिए पहुंच रहे हैं। इनमें कुछ ऐसे  लोग भी है जो खुलेआम शराब से पिंडदान कर रहे हैं। जिसके लिए तीर्थयात्री दूसरे राज्यों से शराब लेकर पहुंच रहे हैं। गयाजी में पिंडदान करने की परंपरा के इतिहास में पहली बार विदेशी शराब से पिंडदान व तर्पण करने की वीडियो कैमरे में कैद हुई है। 

गया शहर से करीब 10 km दूर प्रेतशिला पहाड़ पर गाजीपुर से आए तीर्थयात्रियों के द्वारा अनोखे तरीके से पिंडदान की जा रही है। पिंडदान के लिए लौंग, इलयांची,कसेली,हल्दी और विदेशी शराब का प्रयोग किया जा रहा है। शराबबंदी वाले बिहार में खुलेआम प्रेतशिला पिंडवेदी पर विदेशी शराब से तर्पण की जा रही है। 

विश्व प्रसिद्ध पितृपक्ष मेला के दौरान देश विदेश से लाखो की संख्या में हिंदू सनातन धर्मावलंबी यहां आकर अपने पितरों के उद्धार,मोक्ष की प्राप्ति के लिए पिंडदान,तर्पण व कर्मकांडो को पूरा करते है।इस 15 दिनों की अवधि में ऐसी मान्यता है की मृत पितृ गयाजी आते है। पिंडदान व तर्पण करने से ब्रह्मलोक की प्राप्ति होती है। वहीं प्रेतशिला में पिंडदान का विधान व परंपरा है यहां वैसे मृत पितरों का पिंडदान होता है जिनकी अकाल मृत्यु,दुर्घटना में मौत,जलने से मौत आदि का प्रेत योनि से मुक्ति मिलती है।

Find Us on Facebook

Trending News