बड़े शराब माफिया अजीत खलीला को हरियाणा से पटना ले आई पुलिस, पहले भूपेन्द्र भूजी बिहार में भेजता था शराब

बड़े शराब माफिया अजीत खलीला को हरियाणा से पटना ले आई पुलिस, पहले भूपेन्द्र भूजी बिहार में भेजता था शराब

PATNA: हरियाणा के शराब कारोबारियों से बिहार के माफियाओं का डायरेक्ट कनेक्शन है। हजार किमी दूर बैठा शख्स बिहार के कई जिलों में अपना साम्राज्य फैलाये हुए था। करीब पंद्रह महीनों में हरियाणा के लेवल-1 शराब माफिया ने करीब पचास करोड़ की शराब का सप्लाई कर चुका था। मद्ध निषेध इकाई ने अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की और उस शराब माफिया को हरियाणा से पकड़कर पटना ले आई है। मद्ध निषेध की टीम ने अजीत खलीला को हरियाणा से गिरफ्तार कर हवाई जहाज से गुरूवार करीब एक बजे पटना लाई है। हरियाणा के बड़े शराब कारोबारी की गिरफ्तारी गोपालगंज के कुचायकोट थाने में दर्ज एक केस में हुई है। 

भूपेन्द्र के बाद अजित खलीला बना था सबसे बड़ा माफिया

जानकारी के अनुसार अजीत खलीला से पहले भूपेन्द्र भूपी बिहार में शराब की सप्लाई करवा रहा था। क्यों कि इसका हरियाणा में कई लाईसेंसी दूकानें थी।इस वजह से अजीत खलीला से पहले भूपेन्द्र भूजी की बिहार में खूब कारोबार हो रहा था। लेकिन 12-15 महीना में बदलाव हुआ और भूपेन्द्र की जगह अजीत खलीला ने ले लिया। अब अजीत खलीला ही गोपालगंज,मुजफ्फरपुर,सीवान,चंपारण इलाके में शराब की सप्लाई करवा रहा था। इस इलाके के शराब तस्कर इसके डायरेक्ट संपर्क में थे। फोन करते ही शराब भेज दी जाती थी। 


अजिल खलीला के पास लेवल-1 का लाइसेंस 
आप इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि अजीत खलीला पानीपत-सोनीपत में लेवल -1 का लाईसेंसी है। सिर्फ सोनीपत में इसकी शराब की आठ दूकानें हैं। अजिल खलीला पानीपत जिले में खलीला गांव का रहने वाला है। इसीलिए अपने नाम के बाद खलीला शब्द का प्रयोग करता है। बताया जाता है कि पानीपत-सोनीपत में इसका साम्राज्य है और इसे एक कारबाईन और एक इंसासधारी  बॉडीगार्ड भी मिला हुआ था। 


Find Us on Facebook

Trending News