औरंगाबाद में थानाध्यक्ष ने दिखाई दिलेरी, वर्दी उतारकर नदी में लगायी छलांग, युवक की बचाई जान

औरंगाबाद में थानाध्यक्ष ने दिखाई दिलेरी, वर्दी उतारकर नदी में लगायी छलांग, युवक की बचाई जान

AURANGABAD : कई बार आम लोग पुलिस पर ज्यादती करने का आरोप लगाते हैं। लेकिन जिले में पुलिस का मानवीय चेहरा सामने आया है जो इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है। मामला बारूण थाना से जुड़ा है जहां थानाध्यक्ष कमलेश पासवान ने दिलेरी दिखाते हुए सोन नदी में गिरे एक व्यक्ति को नदी में कूदकर बाहर निकाला। 


दरअसल बारूण थाना क्षेत्र के धुरिया में अपने ससुराल आये गया जिले के बेला थाना क्षेत्र के श्रीपुर गांव निवासी 35 वर्षीय अखिलेश चौधरी रात के अंधेरे में किसी तरह सोन पुल से नीचे गिर गया। गिरकर घायल हो जाने की वजह से वह बेहोश हो गया और किसी को खबर भी नहीं कर पाया। सुबह मॉर्निंग वॉक करने निकले लोगों ने जब उसे नदी में पड़ा देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। 

सूचना पाकर गेमन पूल पहुंचे थानाध्यक्ष ने युवक को नदी में बालू के टीले पर पड़ा देखा जिसके दोनों तरफ नदी की चौड़ी धारा बह रही थी। थानाध्यक्ष ने वर्दी उतारी और गमछा पहन कर पूल से नदी में कूद गये और तैरते हुए टीले पर पड़े व्यक्ति के पास पहुंच उसे होश में लाया और फिर क्रेन की मदद से उसे ऊपर लाया गया। 

घायल अवस्था मे उसे बारूण सीएचसी लाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसकी हालत गंभीर देखते हुए उसे पटना रेफर कर दिया गया। इस त्तरह अपने साहस तथा सूझबूझ से थानाध्यक्ष ने उस व्यक्ति की जान बचाई। जिसकी लोग सराहना कर रहे हैं और बता रहे हैं कि पुलिस का यह चेहरा वाकई प्रसंशनीय तो है। साथ ही,अनुकरणीय भी है।

औरंगाबाद से दीनानाथ मौआर की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News