सावन की पहली सोमवारी आज : दो साल बाद शिवभक्तों में दिख रहा गजब का उत्साह, मंदिरों में सुबह से ही जुटनी लगी भीड़

सावन की पहली सोमवारी आज : दो साल बाद शिवभक्तों में दिख रहा गजब का उत्साह, मंदिरों में सुबह से ही जुटनी लगी भीड़

PATNA : दो साल के बाद आज श्रावणी माह की पहली सोमवारी को लेकर लोगों में गजब का उत्साह नजर आ रहा है। बिहार के सभी जिलों में प्रसिद्ध मंदिरों के साथ दूसरे मंदिरों में आज पूजा को लेकर खास तैयारी की गई है। सुबह से ही इन मंदिरों में महादेव को जल चढ़ाने के लिए लोगों की कतार लगनी शुरू हो गई है। राजधानी पटना सहित प्रदेश के सभी जिलों में लाखों की संख्या में भगवान शिव का जलाभिषेक करने की संभावना जताई गई है। वहीं लोगों की आनेवाली भीड़ को देखते हुए जिला प्रशासन की तरफ से सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं।

आज रवि योग में पहली सोमवारी, होगी फलदायी

सावन मास का पहला सोमवारी 18 जुलाई को है और इस दिन रवि नामक योग पड़ रहा है. वेदों मे बताया गया है कि रवि योग मे किसी मंत्र की साधना अधिक फलदायी होती है। इस योग में मनोकामना सिद्धि के लिए महामृत्युंजय मंत्र का जप और शिव पुराण का पाठ करना लाभकारी रहता है रवि योग में शिव परिवार की पूजा करने से सभी दुख दूर होते हैं। इस दिन पंचमी तिथि होने की वजह से कुछ जगहों पर नाग पंचमी का पर्व भी मनाया जाएगा। यानी इस दिन भगवान शिव के साथ उनके सेवक नाग की भी पूजा होगी. इस दिन भगवान शिव को कच्चा दूध, गंगाजल, बेलपत्र, काले तिल,धतूरा,मिठाई आदि अर्पित करना चाहिए और विधिवत पूजा करनी चाहिए।

सावन में ही हुआ था समुद्र मंथन
 सावन के महीने में भगवान शिव व माता पार्वती का पूजा विधि विधान से करने का विधान है। मान्यता है कि सावन मास में भगवान शंकर की पूजा व सोमवार का व्रत करने से मनोकामना पूरी होती है। पौराणिक कथा के अनुसार श्रावण माह में समुद्र मंथन हुआ था। मंथन से निकले विष को भगवान भोलेनाथ पी गए थे। इस कारण से भोलेनाथ का कंठ नीला पड़ गया, इसी कारण से उनका नीलकंठ नाम रखा गया था। समस्त देवी-देवताओं ने भगवान शिव को राहत पहुंचाने व उनपर विष के प्रभाव को कम करने के लिए शीतल जल अर्पित किया था, तभी से शिव जी को जल बहुत प्रिय हैं। इस कारण से महादेवा को श्रावस मास में जल चढ़ाने की परंपरा है।

सावन के महीने में भगवान शिव सभी मनोकामनाएं करते हैं पूर्ण
 सावन के सोमवार में व्रत रखने व शिवलिंग पर जल चढ़ाने से घर में सुख समृद्धि आती है। सावन के महीने में भगवान शिव अपने भक्तों की सभी मनोकामना पूरी करते हैं। सावन महीना का सोमवार का दिन खास होता है।


Find Us on Facebook

Trending News