तो इस कारण से नीतीश कुमार एनडीए के शासन में नहीं होने दे रहे थे नौकरियों में बहाली, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने बता दी पूरी सच्चाई

तो इस कारण से नीतीश कुमार एनडीए के शासन में नहीं होने दे रहे थे नौकरियों में बहाली, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने बता दी पूरी सच्चाई

PATNA : बिहार में युवाओं को नौकरी देने के वादे के साथ महागठबंधन की सरकार सत्ता में आई है। हर दिन नौकरी उपलब्ध कराने की घोषणा की जा रही है। इन सबके बीच भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा. संजय जायसवाल ने नीतीश कुमार पर बड़ा आरोप लगा दिया है। डा. संजय जायसवाल ने आरोप लगाया है कि आज बिहार में जिन नौकरियों की घोषणा कर वाह वाही लूटी जा रही है, वह सारी नौकरियां एनडीए के शासन में ही तय कर ली गई थी, लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री ने जानबूझकर उस पर रोककर रख दिया था। ऐसा इसलिए क्योंकि उनके मन में पाप था। इसलिए रोज नौकरियों को निकालने के लिए हमसे आज कल का नाटक कर रहे थे।

फिर शुरू नौकरी के बदले जमीन का खेल

डा. संजय जायसवाल बिहार में एक बार फिर से नौकरी के बदले जमीन का खेल शुरू होनेवाला है। यही कारण है कि नीतीश कुमार एनडीए के शासन में किसी विभाग में सरकारी नौकरी नहीं होने देना चाहते थे. ताकि अपने नए उस्ताद बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव उन युवाओं के मां-बाप से उनकी जमीन अपने नाम लिखवा लें। इसके अलावा डा. संजय जायसवाल ने अपने फेसबुक पोस्ट में नीतीश कुमार  पर कई आरोप लगाए हैं।

यह है संजय जायसवाल का पोस्ट

"माननीय नीतीश कुमार जी यह आपके पड़ोसी राज्य की तस्वीरें हैं जो आज से कुछ वर्ष पहले बिहार की ही भांति विकास के मानकों में था।  केवल अंड बंड बोलकर और उप मुख्यमंत्री जी की चरण वंदना करके ही बिहार को चलाइगा या विकास की भी बातें कीजिएगा ? पिछले 4 महीनों से आपने 1 लाख 15 हजार शिक्षकों की नौकरी और लगभग एक लाख दूसरे विभागों की नौकरियों को जो एनडीए के शासनकाल में तय किया था, उसे रोके रखा था। आपके मन में पाप था इसलिए आप रोज नौकरियों को निकालने के लिए हमसे आज कल का नाटक कर रहे थे।     अब तो आप प्रधानमंत्री के दिवास्वप्न वाली सरकार मे हैं ।कम से कम इन ढाई लाख नौकरियों को जो एनडीए के समय आपके साथ मिलकर तय हुआ था उसे अब तो कर दें । 

आप अच्छे से जानते हैं कि आप के उस्ताद तेजस्वी जी का 10 लाख नौकरी का वादा बिलकुल झूठा है लेकिन एनडीए में हम सोच समझकर ही बात करते थे। इसलिए एनडीए के समय जो नौकरियां तय हुई थी उनको पूरा कर दें । प्रधानमंत्री बनने के दिवास्वप्न में बिहार के उन युवकों का भविष्य जिनके नौकरियों के लिए सब कुछ तय हो गया था ,अंधकार में ना डालें। कहीं ऐसा तो नहीं है कि इन सब नौकरियों को आपने इसलिए रोक कर रखा है कि पहले आपके उस्ताद तेजस्वी जी उनके मां- बाप से जमीन दान में ले लें फिर आप नौकरियां देना शुरू कीजिएगा।"

Find Us on Facebook

Trending News