एसटीईटी अभ्यार्थियों में परिणाम को लेकर एक बार फिर जगी आस, पढ़िए पूरी खबर

एसटीईटी अभ्यार्थियों में परिणाम को लेकर एक बार फिर जगी आस, पढ़िए पूरी खबर

PATNA : सोमवार को बिहार विधानसभा में भाकपा माले नेता महबूब आलम द्वारा सरकार से एसटीईटी परिणाम जारी करने की मांग से अभ्यर्थियों में एक बार फिर आस जगी है। बिहार एसटीईटी अभ्यार्थियों ने महबूब आलम को सदन में प्रश्न उठाने पर दिल से धन्यवाद दिया है। 

ज्ञात हो कि 28 जनवरी को बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित एसटीईटी परीक्षा में 4 केंद्रों पर गड़बड़ी  की शिकायत मिलने के बाद उन केंद्रों पर पुनर्परीक्षा का आयोजन किया गया था.

इसके वावजूद पूरे 317 केंद्रों की परीक्षा रद्द कर दिया गया. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का भी स्पष्ट निर्देश है की किसी भी परीक्षा को तभी रद्द किया जा सकता है जब कम से 10 फीसदी गड़बड़ी का साक्ष्य मिले. 

इसी को साक्ष्य बना के अभ्यर्थियों ने पटना उच्च न्यायालय में 5 रीट भी किया है और न्यायालय से न्याय की गुहार लगाई है. अभ्यर्थियों का कहना है की बिहार में कुछ ऐसे लोगो का गैंग है जो कुछ असफ़ल अभ्यर्थियों से चंदा उगाही करते है और अच्छे ढंग से ली गयी परीक्षा को भी कोर्ट में चुनौती देकर व्यवधान उत्पन्न करते है. अभ्यर्थियों ने सरकार से मांग की है इस तरह के असामाजिक तत्वो को चिन्हित करके उनपर कठोर कार्रवाई की जाए.

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News