सुशांत केस में शिवसेना के दामन पर दाग,संजय राउत-आदित्य ठाकरे का नारको टेस्ट बहुत जरुरी-बीजेपी

सुशांत केस में शिवसेना के दामन पर दाग,संजय राउत-आदित्य ठाकरे का नारको टेस्ट बहुत जरुरी-बीजेपी

PATNA: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर बिहार से लेकर महाराष्ट्र में राजनीति जारी है।शिवसेना के रूख पर बीजेपी-जेडीयू हमलावर है। बीजेपी ने कहा है कि शिवसेना के दामन पर दाग है।इसलिए संजय राउत और आदित्य ठाकरे का नार्को टेस्ट बहुत जरूरी है।बिहार भाजपा प्रवक्ता डॉo निखिल आनंद ने मुम्बई की मेयर द्वारा सीबीआई को धमकी देकर पहुँचते ही क्वारेंटाईन करने की चेतावनी देने को निंदनीय बताया है।

 उन्होंने कहा कि इससे स्पष्ट हो गया है कि बीएमसी ने महाराष्ट्र सरकार के इशारे पर आईपीएस विनय तिवारी को क्वारेंटाईन किया था। निखिल ने कहा कि रिया के साथ मिलकर संजय राउत सुशांत की सलेक्टीव फैमिली डिटेल लीक कर रहे हैं जिससे कि मामले को दूसरा मोड़ दिया जा सके। साथ ही संजय राउत ने पीड़ित परिवार के खिलाफ तथ्यहीन अनर्गल बाते करते हुए कहा कि सुशांत के पिताजी ने दो शादी की जिसका उसके मामा और चाचा ने खंडन करते हुए कड़ा प्रतिवाद किया। शिवसेना राजनीतिक तौर पर इतना गिर गई है कि एक मृतआत्मा का चरित्रहनन करने पर उतर आई है।

निखिल आनंद ने कहा कि सीबीआई जाँच को लेकर शिवसेना जिस तरह से बहदवास तरीके से घबराई हुई है उससे लगता है कि सुशांत की संदेहास्पद मृत्यु के सभी राज शिवसेना को पता है अन्यथा पूरी राज्य सरकार बिहार के बेटे के न्याय के खिलाफ क्यों खड़ी है? सुशांत सिंह राजपूत ही क्यों दिशा सालियान के मामले में भी शिवसेना के दामन पर दाग दिखाई देता है और शक होता है कि शिवसेना के घनिष्ट संबंध- संपर्क आरोपियों के साथ हैं। इन सब कारणों से सीबीआई से गुजारिश है कि संजय राउत और आदित्य ठाकरे का नारको एनालिसिस टेस्ट कराये ताकि सारे रहस्य से परदा उठ सके।

निखिल आनंद ने सुशांत सिंह राजपूत के मामले में शिवसेना के मुखपत्र सामना में रविवार को छपे आलेख को निहायत ही वाहियात बताया और कहा कि सुशांत की संदेहास्पद मृत्यु के तुरंत बाद भी सामना ने एक घटिया आलेख लिखा था। इससे लगता है महाराष्ट्र की पूरी सरकार, पुलिस, शासन- प्रशासन व्यवस्था सुशांत के न्याय के खिलाफ प्रतिष्ठा का प्रश्न बनाकर खड़ी है

Find Us on Facebook

Trending News