तेजस्वी ने खोला राज- कैसे भ्रष्ट नेताओं को पवित्रता का प्रमाण पत्र देती है भाजपा और विपक्ष पर IT, ED, CBI की छापेमारी कराती है मोदी सरकार

तेजस्वी ने खोला राज- कैसे भ्रष्ट नेताओं को पवित्रता का प्रमाण पत्र देती है भाजपा और विपक्ष पर IT, ED, CBI की छापेमारी कराती है मोदी सरकार

पटना. लालू यादव से जुड़े राजद नेताओं के खिलाफ हाल के दिनों में सीबीआई, आईटी और ईडी की छापेमारी पर उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बुधवार को केंद्र की मोदी सरकार को जमकर लताड़ा. उन्होंने सोशल मीडिया पर कहा कि केंद्र सरकार ने बीते 8 वर्ष में जांच एजेंसियों को राजनीतिक प्रतिशोध का एक उपकरण बना दिया है. 8 साल पूर्व देशवासियों ने इनकी इंटेग्रिटी व कार्यप्रणाली पर इस तरह के सवाल कभी नहीं उठाए थे. अभी हमारा CBI से विरोध Institution से नहीं बल्कि इनकी राजनीति से प्रेरित कार्यप्रणाली से है.

उन्होंने कहा कि जांच एजेंसियां केवल व केवल विपक्ष शासित राज्य और वहाँ के नेताओं पर ‘छापे मारकर’ अपने राजनीतिक मालिकों को प्रसन्न करने की कोशिश करती है. BJP के लगभग 300 से ऊपर MP और 1000 से अधिक विधायकों पर इन एजेंसियों द्वारा आज तक कोई रेड नहीं पड़ी. इसलिए इनके Political Character से हमारा विरोध है. उन्होंने कहा कि बीते 8 वर्षों में विपक्ष के कई नेताओं पर इसी IT/ED/CBI के माध्यम से छापे पड़े. ढेर सारे आरोप तय हुए, गोदी मीडिया के माध्यम से चरित्रहनन हुआ लेकिन जैसे ही उन कथित भ्रष्ट विपक्षी नेताओं ने भाजपा ज्वाइन की वो पवित्रता का प्रमाण पत्र पा गए. कोई मंत्री बन गया तो कोई मुख्यमंत्री बन गया. 


दरअसल, 24 अगस्त को बिहार में लालू यादव के करीबी नेताओं पर सीबीआई, आईटी और ईडी ने छापेमारी की थी. राजद के दो सांसद, एक एमएलसी सहित करीब आधा दर्जन नेताओं के दो दर्जन से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी हुई थी. यहां तक कि नोएडा के एक मॉल को भी तेजस्वी का मॉल बताया गया था. बाद में मॉल प्रशासन ने सफाई दी कि उनका तेजस्वी यादव से कोई नाता नहीं है. वहीं तेजस्वी भी अपने खिलाफ अफवाह उड़ाने को लेकर जमकर बरसे. 

इसके पहले रेलवे में नौकरी के बदले जमीन मामले में लालू यादव के करीबी भोला यादव पर भी सीबीआई ने शिकंजा कसा और उन्हें गिरफ्तार किया गया. ऐसे में एक के बाद एक राजद नेताओं के यहां हो रही छापेमारी सहित देश भर में विपक्षी नेताओं के ठिकानों पर केंद्रीय एजेंसियों की छापेमारी को तेजस्वी ने राजनीतिक प्रतिशोध की कार्रवाई कहा है. 


Find Us on Facebook

Trending News