बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • BREAKING: शादी के पहले उठी दूल्हे की अर्थी, अपराधियों ने मारी गोली, मातम में बदला खुशी का माहौल
  • BREAKING: शादी के पहले उठी दूल्हे की अर्थी, अपराधियों ने मारी गोली, मातम में बदला खुशी का माहौल

  • लोकसभा चुनाव के पहले सरकारी कर्मचारियों को मिलेगी खुशखबरी, डीए में बड़ा इजाफा कर सकती है केंद्र सरकार
  • लोकसभा चुनाव के पहले सरकारी कर्मचारियों को मिलेगी खुशखबरी, डीए में बड़ा इजाफा कर सकती है केंद्र सरकार

  • पीएम मोदी ने श्रीकृष्ण भक्तों के लिए बड़ी सुविधा का किया शुभारंभ, देश के सबसे लंबे केबल-आधारित पुल 'सुदर्शन सेतु' का उद्घाटन
  • पीएम मोदी ने श्रीकृष्ण भक्तों के लिए बड़ी सुविधा का किया शुभारंभ, देश के सबसे लंबे केबल-आधारित पुल

  • तेजस्वी यादव की जनविश्वास यात्रा आज पहुंचेगी वैशाली, ढोल नगाड़े के साथ भव्य स्वागत को तैयार राजद कार्यकर्ता
  • तेजस्वी यादव की जनविश्वास यात्रा आज पहुंचेगी वैशाली, ढोल नगाड़े के साथ भव्य स्वागत को तैयार राजद कार्यकर्ता

  • स्टेशन पर खड़ी मालगाड़ी बिना लोको पायलट और सिग्नल के ही लगी चलने, मची अफरातफरी
  • स्टेशन पर खड़ी मालगाड़ी बिना लोको पायलट और सिग्नल के ही लगी चलने, मची अफरातफरी

  • पीपुल्स फैंडली पुलिस की करतूत,  खाकी वाले ने पहले युवक को दौड़ाया, फिर कस कर की कुटाई, गाली गौलौज ऐसा की शर्म भी शरमा जाए
  • पीपुल्स फैंडली पुलिस की करतूत, खाकी वाले ने पहले युवक को दौड़ाया, फिर कस कर की कुटाई,

  • पटना में नियोजित शिक्षकों का बवाल, के.के पाठक का दिल्ली दौरा, शिक्षा मंत्री और सीएम के प्रधान सचिव का फोन नहीं उठा रहे ACS, जानिए क्या है पूरा मामला
  • पटना में नियोजित शिक्षकों का बवाल, के.के पाठक का दिल्ली दौरा, शिक्षा मंत्री और सीएम के प्रधान सचिव

  • पटना में आज नियोजित शिक्षक करेंगे आंदोलन, सक्षमता परीक्षा के पहले एडमिट कार्ड जला करेंगे विरोध
  • पटना में आज नियोजित शिक्षक करेंगे आंदोलन, सक्षमता परीक्षा के पहले एडमिट कार्ड जला करेंगे विरोध

  • मोतिहारी में एचएम और डीपीएम के बीच जमकर चलें लात घूंसे, वीडियो सोशल मीडिया में हुआ वायरल
  • मोतिहारी में एचएम और डीपीएम के बीच जमकर चलें लात घूंसे, वीडियो सोशल मीडिया में हुआ वायरल

  • बांका में अवैध खनन रोकने गए दारोगा और सिपाही पर बालू माफियाओं ने कुल्हाड़ी से किया, जब्त बालू लदे ट्रैक्टर लेकर हुए फरार
  • बांका में अवैध खनन रोकने गए दारोगा और सिपाही पर बालू माफियाओं ने कुल्हाड़ी से किया, जब्त बालू

बीपीएससी के नए नियम को लेकर सड़क पर उतर गए भविष्य के होनेवाले अधिकारी, आयोग के अपने फैसले वापस लेने की कर रहे थे मांग

बीपीएससी के नए नियम को लेकर सड़क पर उतर गए भविष्य के होनेवाले अधिकारी, आयोग के अपने फैसले वापस लेने की कर रहे थे मांग

PATNA :   कुछ दिन पहले बीपीएससी परीक्षा को लेकर नए पैटर्न की घोषणा की गई थी। जिसमें सबसे बड़ा बदलाव 67वीं बीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा को दो दिन तक आयोजित करने का फैसला था। जिसका विरोध अब तक सोशल मीडिया पर हो रहा था। लेकिन अब आयोग के इस फैसले के विरोध में बिहार में भविष्य के होनेवाले अधिकारी सड़क पर उतर गए और आयोग के खिलाफ ने शुक्रवार को बीपीएससी गेट पर हंगामा (Students protest In patna) किया और जमकर नारेबाजी की

बीपीएससी परीक्षा के पैटर्न (percentile system In BPSC) में हुए बदलाव के विरोध में प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों ने कहा कि खेल के बीच में नियम नहीं बदलेगा और बीपीएससी 67वीं के लिए जब नोटिफिकेशन निकला था उस समय परीक्षा का जो पैटर्न था, उसी पैटर्न पर फिर से परीक्षा ली जानी चाहिए. छात्रों का कहना है कि परीक्षा एक दिन में ही होनी चाहिए.

इस बात का है अभ्यर्थियों को डर

आयोग ने 2 दिन में परीक्षा आयोजित करने का निर्णय लिया है और परसेंटाइल सिस्टम में धांधली होने की आशंका है. उन लोगों की एक ही मांग है कि परीक्षा एक दिन में ही आयोजित की जाए और उसी के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार किया जाए. 2 दिन परीक्षा आयोजित की जाएगी तो दोनों दिन परीक्षा के सवालों का लेवल अलग-अलग होगा।

अभ्यर्थियों  ने कहा कि 8 मई को जब पीटी परीक्षा आयोजित की गई थी तो उसी समय उन्होंने ही क्वेश्चन पेपर लीक का मामला सबसे पहले उजागर किया था और मीडिया के सामने लाया था. जिसके बाद परीक्षा रद्द हुई थी। उन्होंने कहा कि पेपर लीक मामले में अब तक दर्जनों गिरफ्तारी हो चुकी है और बीपीएससी के अध्यक्ष का इस दिशा में कई कदम सराहनीय भी रहा है, लेकिन परीक्षा में परसेंटाइल सिस्टम का वह विरोध करते हैं।

बताते चलें कि 802 पदों के लिए मुख्य परीक्षा के लिए 10 गुना लगभग 8000 अभ्यर्थियों का आरक्षण कोटि के हिसाब से बटरफ्लाई होगा. परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों की आंसर शीट की चेकिंग की जाएगी और उत्तर पुस्तिका चेक करने से पहले सॉफ्टवेयर का मॉक चेक कर दिया जाएगा ताकि कहीं कोई त्रुटि नहीं रह जाए। अभ्यर्थियों की आंख और अंगूठे का निशान लेकर परीक्षा हॉल में प्रवेश करने दिया जाएगा और जो भी फिंगरप्रिंट नहीं देना चाहेंगे उन्हें परीक्षा से वंचित रखा जाएगा. इसके साथ ही बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन ने निर्णय लिया है कि आयोग के वेबसाइट पर अभ्यर्थी अपने आंसर शीट को चेक कर पाएंगे