छात्रों को मिलनेवाले पोशाक का पैसा हेडमास्टर साहब ने अपने पत्नी-बेटे के खाते में डाल दिया, राज खुलते ही विभाग में मची खलबली

छात्रों को मिलनेवाले पोशाक का पैसा हेडमास्टर साहब ने अपने पत्नी-बेटे के खाते में डाल दिया, राज खुलते ही विभाग में मची खलबली

BETIA : मझौलिया प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत रमपुरवा महनवा पंचायत स्थित  राजकीय प्राथमिक विद्यालय सेमुआपुर में  चौकाने वाला मामला सामने आया है।जहां वर्ष 2016-2017 में सरकार द्वारा छात्र छात्राओं के लिए आवंटित पोशाक राशि को प्रधानाध्यापक कृष्णकांत प्रसाद द्वारा अपने, अपनी पत्नी मनोरमा देवी तथा अपने पुत्र रमन कुमार के बैंक खाते में डालकर गबन करने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है।

इस बाबत रमपुरवा महनवा पंचायत के मुखिया डा.चन्द्रिका साह द्वारा जिला शिक्षा पदाधिकारी बेतिया पश्चिम चम्पारण को दिये गये आवेदन के आलोक में बेतिया प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी शशिकांत झा द्वारा विद्यालय जांच के क्रम में उजागर हुआ है। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान प्रधानाध्यापक कृष्णकांत प्रसाद द्वारा स्वीकार किया गया  कि लगभग दर्जन भर छात्र छात्राओं की पोशाक राशि उन्होंने छात्रों के खाते में नहीं भेजकर अपने खुद के तथा अपने परिजनों के खाते में भेज दिया। जांच अधिकारी ने बताया कि यह सरासर गबन का मामला है। 

इसे प्रधानाध्यापक ने लिखित रूप से स्वीकारा भी है। खुद पर गबन के आरोप लगने के बाद भी प्रधानाध्यापक साफ कह रहे हैं कि जांच अधिकारी ने जांच किया है चाहे वेतन कटे, चाहे जेल जाना पड़े या सस्पेंड होना पड़े जो होगा देखा जायेगा।

गौरतलब हो कि कुछ विद्यालयों में बच्चों का निवाला गबन करने का मामला उजागर होता रहता था लेकिन अब छात्रों के तन से कपड़ा छिनने का सनसनीखेज मामला भी प्रकाश  में आ गया है।बताते चलें कि उक्त जांच जिला शिक्षा पदाधिकारी बेतिया पश्चिम चंपारण के पत्रांक 946 दिनांक 22 अगस्त 2022 के आदेश के अनुपालन में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी बेतिया शशिकांत झा द्वारा किया गया।

Find Us on Facebook

Trending News