मुखिया का अमानवीय चेहरा आया सामने : युवक को बाइक चोरी के आरोप में निर्वस्त्र करके की पिटाई, वीडियो हुआ वायरल, एसपी ने कहा होगी कार्रवाई

मुखिया का अमानवीय चेहरा आया सामने : युवक को बाइक चोरी के आरोप में निर्वस्त्र करके की पिटाई, वीडियो हुआ वायरल, एसपी ने कहा होगी कार्रवाई

BUXER : - पंचायत का तालिबानी चेहरा सामने आया है। मामला धनसोई थाना क्षेत्र के मटकीपुर गांव का है, जहां मोटरसाइकिल चोरी के आरोप में युवक मुकेश कुमार को शनिवार की रात मटकीपुर पंचायत के पूर्व मुखिया हरेंद्र यादव के दरवाजे पर मोटरसाइकिल चोरी के आरोप में युवक को मानवाधिकरो का हनन करते हुए युवक को नंगा कर पीटते हुए वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें दिख रहा है कि पूर्व मुखिया युवक को पीटते हुए अपराध कबूल करने की बात करते हुए देखे जा सकते हैं।

बताते चलें कि मटकी पुर पंचायत के पूर्व मुखिया हरेंद्र यादव के दरवाजे पर मोटरसाइकिल चोरी के आरोप में मुकेश कुमार नाम का युवक जो गौसैसीडेहरा गांव का रहने वाले मुकेश को मोटरसाइकिल चोरी के आरोप में पकड़ा गया था। जिसे पंचायत के पूर्व मुखिया हरेंद्र यादव के दरवाजे पर उसे लाया गया। जहां मोटरसाइकिल चोरी के आरोप में उसे नंगा कर पीटा जा रहा था और युवा कह रहा था कि मैंने ऐसा कुछ नहीं किया है युवा किसी संदेश कुमार का नाम लेकर कह रहा है कि उसी ने हमारे यहां गाड़ी खड़ी की थी जो लोदीपुर का निवासी है उसी ने फोन पर बाइक लेकर आने को कहा और मैं जा ही रहा था कि कुछ लोग हमें रास्ते से उठा लिए। अगर मैं पकड़ा गया तो दोषी मैं हूं। फिर भी वीडियो में साफ तौर पर दिख रहा है कि युवक को नंगा कर पीटा जा रहा है।


दिलचस्प मामला यह है कि जिसकी बाइक चोरी हुई तथा पकड़ा गया युवक तथा जिस आरोपी का मुकेश नाम ले रहा है, वे सब मटकीपुर पंचायत के ही निवासी हैं। घटना शनिवार की है, जिसकी थाने में शिकायत दर्ज होने के पहले ही मोटरसाइकिल के साथ युवक उन्हीं लोगों के द्वारा पकड़ा भी जाता है। जिसे मटकीपुर पंचायत के पूर्व मुखिया हरेंद्र यादव के दरवाजे पर उसे लाया जाता है। जहां हरेंद्र यादव की बहू वर्तमान में मुखिया हैं। जहां युवक के साथ मानवाधिकारों का हनन करते हुए पंचायत के सामने मौजूद लोगों के मौजूदगी में ही पंचायत का तालिबानी चेहरा सामने आया है। बाद में उसे पुलिस के हवाले भी कर दिया गया।

 वहीं आरोपी युवक को पुलिस जब कोर्ट ले आई तो मीडियाकर्मियों के सवाल करने पर युवक ने आपबीती बताते हुए बताया कि, हरेंद्र मुखिया तथा अजीत मुखिया ने हमें नंगा कर बुरी तरह पीटा है। जहां से गाड़ी बरामद हुई है वहीं से मेरे साथ मारपीट की गई तथा उठा उठा कर पटका गया। उन्ही के लोगों ने मेरा कपड़ा खोलकर नंगा कर मुखिया के दरवाजे पर ही बुरी तरह पीटा गया। युवक तथा उसकी मां ने यह भी बताया कि हम गरीब हैं, हमें गांव में रहना है, हम उन लोगों पर केस नहीं कर सकते, कहते हुए कोर्ट में ही मां बेटी को काफी दहशत में देखा गया। 

जब इस मामले पर एसपी से पूछा गया तो एसपी नीरज कुमार सिंह ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए उन्होंने बताया कि, वायरल वीडियो की जानकारी मिलने के बाद अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को सत्यता की जानकारी लेने के लिए भेजा गया था। इस मामले में सत्यता की जांच कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

बहरहाल अब देखने वाली बात यह होगी कि, इस तरह मानवाधिकारों का हनन करते हुए जिस तरह पंचायत का तालिबानी अमानवीय कृत्य देखने को मिला। इस मामले पर पुलिस क्या करवाई करती है यह आने वाला वक्त ही बताएगा। वहीं लोगों में आम चर्चा यह भी है कि चुनाव में मतदान करने को लेकर युवक पर इस तरह का आरोप लगाकर उसके साथ मारपीट की गई। इस मामले पर जिला प्रशासन को गंभीरता से जांच कर कार्रवाई करनी चाहिए।


Find Us on Facebook

Trending News