योगी सरकार के काम को नीतीश सरकार ने रूकवाया, BJP विधायकों के भारी विरोध के बाद चैनल निर्माण का काम रूका

योगी सरकार के काम को नीतीश सरकार ने रूकवाया, BJP विधायकों के भारी विरोध के बाद चैनल निर्माण का काम रूका

PATNA: बीजेपी विधायकों के भारी विरोध के बाद नीतीश सरकार ने यूपी की योगी सरकार द्वारा गंडक नदी पर कराये जा रहे चैनल निर्माण का काम रूकवा दिया है। जिस काम को रूकवाने के लिए बीजेपी विधायक को इस्तीफे की धमकी देनी पड़ी, पर्यटन मंत्री को पत्र लिखना पड़ा इसके बाद भी जल संसाधन मंत्री को अखबार के माध्यम से जानकारी हासिल हुई। 

बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ने काम रोके जाने संबंधी जानकारी को साझा किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि अखबार से खबर मिली कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पश्चिम चंपारण के ठंकराहा प्रखंड के हरपुर पंचायत में गंडक नदी के चैनल का निर्माण कराया जा रहा है। जानकारी मिलते ही  सीएम नीतीश कुमार ने तुरंत स्थल निरीक्षण कर रिपोर्ट मांगी।जिसके बाद जल संसाधन विभाग की टीम ने कल स्थल निरीक्षण किया और वहां चल रहे कार्य रोक दिया .उन्होंने बताया कि जल संसाधन विभाग बिहार के अभियंताओं की टीम ने कल स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों और उत्तर प्रदेश सरकार के अभियंताओं के साथ स्थल का निरीक्षण किया. टीम ने पाया कि चैनल का निर्माण संरेखण (alignment) से हट कर कराया जा रहा था। जबकि इस कार्य को करने के लिए  के लिए बिहार सरकार के जल संसाधन विभाग के तरफ से अभी तक NOC नहीं दिया गया है. बिहार भूभाग में चैनल निर्माण पर जल संसाधन विभाग में ने 30 अप्रैल को ही रोक लगा दिया था, पर ठेकेदारो के द्वारा रात में जाकर कार्य कराये जाने की शिकायत मिल रही थी . जिसके बाद अब इस कार्य पर पूरी तरह रोक लगाने के साथ ही स्थल की निगरानी के लिए वहां मजिस्ट्रेट की तैनाती कर दी गई है . 

बीजेपी विधायक विनय बिहारी ने दी थी इस्तीफे की धमकी

गंडक नदीं पर यूपी सरकार द्वारा कराये जा रहे चैनल निर्माण को रोकने को लेकर सबसे पहले लौरिया से बीजेपी विधायक विनय बिहारी ने मोर्चा खोला था। उन्होंने फेसबुक पेज के माध्यम से वीडियो जारी कर स्थानीय जिला प्रशासन और राज्य सरकार से कहा था कि तत्काल काम रोकिये। अगर ऐसा नहीं होता है तो फिर जन प्रतिनिधि रहने से क्या फायदा? अगर मेरे रहते काम होता रहे और इस जगह से 70 हजार की आबादी बाढ़ में डूब जायेगी तो फिर विधायक रहने से क्या मतलब। इससे तो अच्छा है कि विधायकी से ही इस्तीफा कर दें। बीजेपी विधायक के बाद नीतीश कैबिनेट के मंत्री और पश्चिमचंपारण जिले से ही विधायक नारायण प्रसाद विरोध में सामने आ गये। मंत्री ने गंडक नदी पर कराये जा रहे चैनल का काम रूकवाने के लिए सीएम नीतीश को पत्र लिखा। विधायक और मंत्री के बाद बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल सामने आये। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि मंत्री नारायण प्रसाद और विधायक विनय बिहारी मेरे निवास स्थान पर आए थे। उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 10 किलोमीटर के चैनल का विस्तृत नक्शा देते हुए समझाया कि इससे हमारे जोगापट्टी से लेकर बैरिया एवं नौतन के तटबंधों पर बुरा असर पड़ेगा ।

ठेकेदार की गिरफ्तारी होगी-बीजेपी अध्यक्ष

अभी मेरी जल संसाधन के सचिव से इस पर विस्तृत चर्चा हुई और यह काम रोक दिया गया है। धनहा-ठकराहा से लेकर जोगापट्टी बैरिया तक के किसी भी नागरिक को लगता है कि आज से कभी भी यह काम हो रहा है तो शीघ्र हम तीनों में से किसी को सूचित करें । निश्चित तौर पर ठेकेदार की गिरफ्तारी भी होगी और उनका सारा मशीन जप्त भी कर लिया जाएगा। 70 फीट चौड़ा 30 फीट गहरा और 10 किलोमीटर लंबा चैनल बनना था जिसे हम लोगों ने पूर्णतः रोक लगा दिया है. क्योंकि इससे हमारे जोगापट्टी से लेकर नौतन तक के तटबंधों के ऊपर बहुत ज्यादा दबाव पड़ता।

Find Us on Facebook

Trending News