मिठाई की मांग को लेकर ट्रांसमिशन टावर पर चढ़ा था युवक, कड़ी मशक्कत के बाद उतारा गया

मिठाई की मांग को लेकर ट्रांसमिशन टावर पर चढ़ा था युवक, कड़ी मशक्कत के बाद उतारा गया

MUZAFFARPUR : जिले के सदर थाना क्षेत्र स्थित बारमतपुर में बुधवार की शाम से 1.32 लाख बिजली के ट्रांसमिशन टावर पर एक युवक पिछले 23 घंटे से चढ़ा हुआ था। पुलिस, बिजली विभाग और फायर ब्रिगेड की तमाम कोशिशों के बावजूद वह उतर नहीं रहा था। बार-बार ऊपर से मोबाइल और मिठाई की मांग कर रहा था। लोग उसे मिठाई और मोबाइल भी दे रहे थे। लेकिन, वह फिर भी नहीं उतर रहा था। ऊपर बैठकर वह आराम से इधर-उधर कर रहा था। उसे गिरने और मौत का भी डर नहीं था। एहतियातन बिजली की आपूर्ति भी घण्टों बाधित कर दी गई थी। देर रात तक उसे उतारने की कोशिश की गई। लेकिन सफलता नहीं मिली। आज सुबह से फिर उसे उतारने का प्रयास किया जा रहा था। इस भीषण ठंड में भी बिना स्वेटर और कम्बल के टावर पर चढ़ा हुआ था। स्थानीय लोगों की मुताबिक वह विक्षिप्त सुबह टावर पर से उतरा था, लेकिन फिर चढ़ गया। स्थानीय ग्रामीण राजेश ने बताया कि आज सुबह चार बजे वह उतरा था। जैसे ही कुछ लोग उसे पकड़ने गए। वह फिर से ऊपर चढ़ गया। आसपास के लोगों से उसके बारे में पूछताछ की गई तो बताया गया कि वह मानसिक रूप से बीमार है। इसलिए ऐसी हरकत कर रहा है। स्थानीय भगवान राय ने बताया कि युवक बारमतपुत का ही रहने वाला है। पहले भी कई बार इसी तरह ऊंचे जगह पर चढ़ चुका है।

पत्थर मारने पर भी नहीं उतरा

ग्रामीणों ने भी उसे उतारने के लिए हर सम्भव प्रयास किया। पत्थर तक फेंका गया। बावजूद वह नहीं उतरा। टावर के बिल्कुल बीच में जाकर छिप गया। जिससे उसे पत्थर नहीं लगता था। थक हारकर सभी ने उसे उसी हालत में छोड़ दिया। थानेदार सत्येंद्र मिश्रा ने बताया कि उसे उतारने की कोशिश की गयी। जिसके बाद तार खोलकर उसे नीचे उतारा गया। 

4 साल पहले भी चढ़ा था एक विक्षिप्त

4 साल पूर्व भी एक विक्षिप्त पावर ग्रिड से गुजरने वाले लाइन के टावर पर चढ़ गया था। जिसे लेकर खूब हंगामा हुआ था। वह व्यक्ति शराब चालू कराने की मांग कर रहा था। उसे 5 घण्टे की कड़ी मशक्कत के बाद उतारा गया। आज सुबह नगर DSP भी बारमतपुर पहुचे और विक्षिप्त को नीचे उतारने का प्रयास जारी रखा। इसके साथ ही मौके पर अधिक समय हो जाने के बाद वरीय पुलिस अधीक्षक जयंतकांत भी पहुचे। हालंकि युवक को नीचे उतारने के बाद सभी ने चैन की साँस ली। इसके बाद बिजली आपूर्ति सुचारू की गयी। 

मुजफ्फरपुर से अरविन्द अकेला की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News