आर्मी अधिकारी की गाड़ी में ट्रक ने मारी टक्कर, कार्रवाई करने की जगह सीमा विवाद को लेकर उलझी रही पुलिस, खूब हुआ ड्रामा

आर्मी अधिकारी की गाड़ी में ट्रक ने मारी टक्कर, कार्रवाई करने की जगह सीमा विवाद को लेकर उलझी रही पुलिस, खूब हुआ ड्रामा

SUPAUL : सड़क दुर्घटना में कार्रवाई करने की जगह पुलिस सीमा विवाद को लेकर अपना पल्ला झाड़ती हुई नजर आई। जिसके कारण बीच सड़क पर लगभग दो घंटे तक खूब ड्राम चला। मामला ललितग्राम/ बलुआ ओपी क्षेत्र के मिर्चेया नदी के समीप एन.एच 57 से जुड़ा है। जहां पर एक आर्मी अफसर की कार को एक ट्रक ने टक्कर मार दी। आर्मी ऑफिस ने टक्कर मारकर भाग रहे ट्रक का पीछा कर पकड़ लिया।लेकिन इस दौरान ट्रक चालक ट्रक को सड़क किनारे खड़ा कर फरार हो गया। जिसके बाद अधिकारी ने एसपी को घटना की सूचना दी, जब पुलिस वहां पहुंची तो कार्रवाई करने की जगह अधिकारी से ही सीमा क्षेत्र के लेकर उलझ गई। 

 जानकारी देते हुए कर्नल अनुपम कुमार दुबे ने बताया कि वो अपने पूरे परिवार साथ अपने कार HP 52B 4680 से छुट्टी पर सिलीगुड़ी से अपने घर जा रहा थे इसी क्रम में भीमपुर से पीछे ट्रक UP 21CN 5558  ट्रक ने उनके कार को टक्कर मार दिया। जिससे कार के बाएँ तरफ से क्षतिग्रस्त हो गया।हालांकि ग़नीमत रही कि कार में बैठे सभी लोग सुरक्षित थे।उसके बाद जब उन्होंने ट्रक चालक को रुकने का इशारा किया तो वो ट्रक लेकर भागने लगा। जिसके बाद उन्होंने ट्रक का पीछा कर ललितग्राम ओपी क्षेत्र के मिर्चेया नदी पुल पर ट्रक को पकड़ लिया। लेकिन चालक ट्रक को सड़क किनारे खड़ा कर फरार हो गया।

कर्नल दुबे ने बताया कि उन्होंने चालक का दौड़कर भी कुछ देर पीछा किया लेकिन ट्रक चालक जंगल में छुप गया। उन्होंने बताया कि जब ललितग्राम ओपी पुलिस घटनास्थल पर पहुँची तो ओपी अध्यक्ष किशोरी प्रसाद मदद करने के बजाय उनके साथ बदसुलकी से पेश आने लगे।  उन्होंने ओपी अध्यक्ष को बताया कि वो आर्मी में कमिसन क्लास वन अफसर है।उसके बाद भी वो उनसे बदतमीजी करते रहे। इस दौरान ओपी पुलिस घटना स्थल पर पहुंचने पर न तो ट्रक वाले से कोई पेपर मांगा न कोई उनसे पूछताछ की। सीधे उनसे ही बदतमीजी से पेश आने लगे। 

 जब उन्होंने पुलिस को ट्रक वाले के खिलाफ केस दर्ज करने को कहा तो ओपी पुलिस सीमा को लेकर विवाद खड़ा कर दिया और केस रजिस्टर करने से मना कर दिया। इधर पुलिस और कर्नल के बीच मामले को लेकर हाईवे पर करीब दो घन्टे तक हाईवे वोल्टेज ड्रामा चलता रहा। हालांकि जब स्पॉट की जाँच की गई तो पता चला कि जहाँ घटना हुई वो भीमपुर थाना क्षेत्र है। जिसके बाद भीमपुर पुलिस ने मामले को लेकर केस दर्ज किया। 

इधर भीमपुर थाना अध्यक्ष रामशंकर कुमार ने बताया कि कर्नल दुबे के द्वारा आवेदन मिला है। जिसके बाद केस दर्ज कर ट्रक को कब्जे में लेकर कारवाई की जा रही है।इधर घटनास्थल पर ललितग्राम ओपी पुलिस की कार्यशैली भी हैरान करने वाली थी।जब कर्नल दुबे से पत्रकार का बयान ले रहा था।तब ओपी ओपी पुलिस के हवलदार मोहन प्रसाद जबरन मीडियाकर्मियों के कैमरा पर हाथ मारकर बंद करा दिया।

Find Us on Facebook

Trending News