चोरी का अनोखा तरीका ! स्लीपर का टिकट लेकर रेल यात्रा करते है चोर, मौका पाते ही यात्रियों का सामान लेकर हो जाते हैं चम्पत

चोरी का अनोखा तरीका ! स्लीपर का टिकट लेकर रेल यात्रा करते है चोर, मौका पाते ही यात्रियों का सामान लेकर हो जाते हैं चम्पत

GAYA : शनिवार को आरपीएफ गया के निरीक्षक प्रभारी अजय प्रकाश के नेतृत्व में उपनिरीक्षक विक्रम देव सिंह साथ गाड़ी संख्या 12875 पूरी नई दिल्ली नीलांचल एक्सप्रेस के गया पहुंचने पर अपराधिक तत्वों की निगरानी की जा रही थी। इस दौरान गाड़ी के कोच संख्या S 5 से दो व्यक्तियों को एक लाल रंग के बड़े एवं भारी ट्रॉली बैग के साथ उतर कर मध्य ओवरब्रिज की सीढ़ियों पर जाते देखा गया। संदेह के आधार पर रोककर पूछताछ करने पर ट्रॉली बैग में रखे सामानों के संबंध में स्पष्ट रूप से कुछ भी बताने में असहज होने पर दोनों की तलाशी ली गई। जिसमें एक प्रयाग झा उर्फ प्रदीप सिंह उम्र 60 वर्ष पिता स्वर्गीय पप्पू झा निवासी दूधपुरा थाना दूधपुरा जिला समस्तीपुर के पास से अगले 4 दिनों के विभिन्न रात्रि ट्रेनों में यात्रा हेतु कंफर्म टिकट बरामद हुए। 

साथ ही दूसरे व्यक्ति (2) पूरन साहनी उम्र 41 वर्ष पिता स्वर्गीय रतन सैनी निवासी ददनपुर थाना ताजपुर जिला समस्तीपुर बिहार के पास से भी 4 अदद उन्हीं ट्रेनों के आरक्षित स्लीपर क्लास का यात्रा टिकट, जो प्रथम व्यक्ति के पास से बरामद हुए थे। साथ ही दोनों के पास से 5 अदद पीली धातु का कान का बाली, पीली धातु का एक अंगूठी, सोना तोलने हेतु उपयोग किए जाने वाला छोटा इलेक्ट्रॉनिक तराजू, एवं ₹8650/- नगद बरामद हुए। आरपीएफ के पोस्ट प्रभारी निरीक्षक अजय प्रकाश ने बताया कि दोनों व्यक्तियों के पास से बरामद लाल रंग के बड़े एवं भारी ट्रॉली बैग के संबंध में पूछने पर उक्त दोनों ने बताया कि उक्त ट्राली बैग उन्होंने गाड़ी संख्या 12875 के किसी स्लीपर कोच से यात्रा कर रहे यात्री के बर्थ के नीचे से चुराया है। साथ ही बताया कि वह दोनों उक्त गाड़ी के कोच संख्या S-5 बर्थ नंबर 65 एवं कोच संख्या S-3 बर्थ नंबर 49 पर टाटानगर से गया जंक्शन तक की चोरी करने की नियत से यात्रा कर रहे थे। मौका पाकर गया में उक्त यात्री का ट्रॉली बैग लेकर उतर गए। गाड़ी संख्या 12875 के रेल सुरक्षा बल एस्कॉर्ट पार्टी इंचार्ज सहायक उपनिरीक्षक अक्षय वर गया से डीडीयू मोबाइल नंबर 94735 87059 को उनके गाड़ी में किसी यात्री का लाल रंग का ट्राली बैग किसी स्लीपर कोच से चोरी होने की सूचना देते हुए उक्त यात्री के संबंध में पता करने को कहा गया। साथ ही उक्त ट्राली बैग की जांच करने पर उसमें अमित गुप्ता नामक व्यक्ति का मोबाइल नंबर 9935559650 पाया गया। जिस पर यात्री को सूचना देने पर उन्होंने उनका लाल रंग का ट्रॉली बैग चोरी हो जाने की बात स्वीकार की। 


घटना के संबंध में एफआईआर दर्ज कराने हेतु वह उक्त गाड़ी से डीडीयू में उतर कर गया वापस आने की बात कही। उक्त दोनों व्यक्तियों द्वारा उनके पास से बरामद विभिन्न रात्रिकालीन ट्रेनों के यात्रा टिकट के संबंध में पूछने पर उक्त दोनों ने बताया कि वह रात्रिकालीन ट्रेनों में रिजर्वेशन करा कर चोरी करने के नियत से यात्रा करते हैं तथा मौका पाकर पास के बर्थ के  यात्रियों का सामान चोरी कर लेते हैं। प्रदीप सिंह उर्फ गुरु जी उर्फ प्रयाग झा S/0 राजकिशोर सिंह उर्फ स्वर्गीय पप्पू झा उम्र 58 वर्ष, पता :- साकिन दूधपुरा थाना दूधपुरा जिला समस्तीपुर बिहार के विरुद्ध राजकीय रेल पुलिस थाना इलाहाबाद केस नंबर - 183/2020 दिनांक 12.11.2020, अंतर्गत धारा 380, 411, 412, 413, 414, 120B आईपीसी जीआरपी/इलाहाबाद तथा राजकीय रेल पुलिस थाना धनबाद केस नंबर 120/17 दिनांक 18.01.17 अंतर्गत धारा 414/34 भारतीय दंड संहिता दर्ज पाया गया है। साथ ही पूरन सहनी उम्र 41 वर्ष पिता स्वर्गीय रतन सहनी, साकिन ददनपुर थाना ताजपुर जिला समस्तीपुर बिहार के विरुद्ध पूर्व में राजकीय रेल पुलिस थाना धनबाद केस नंबर 86/15 दिनांक 25.7.15 अंतर्गत धारा 379 भारतीय दंड संहिता दर्ज पाया गया है। इससे साफ़ हो गया की दोनों व्यक्ति अंतरराज्यीय गिरोह के रूप में यात्री सामान चोरी करने हेतु सक्रिय हैं। उक्त दोनों व्यक्तियों द्वारा यात्री सामानों की चोरी का अपराध स्वीकार करने पर उनके कब्जे से बरामद सामानों को जब्ती सूची बनाते हुए उपनिरीक्षक विक्रम देव सिंह के द्वारा जप्त किया गया। शिकायतकर्ता यात्री अमित गुप्ता के द्वारा गया पहुंच कर उक्त घटना के संबंध में जीआरपी गया में किए गए एफ आई आर के आधार पर राजकीय रेल पुलिस थाना गया में अपराध संख्या 11/22 दिनांक 08 .01.2022 अंतर्गत धारा 379,411 एवं 414 भारतीय दंड संहिता दर्ज किया गया। बरामद संपत्ति का अनुमानित मूल्य लगभग ₹60,000/- पाया गया है।

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News