बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • जदयू चिकित्सा सेवा प्रकोष्ठ ने पीएमसीएच में ओपीडी सहित अन्य सुविधाओं के उद्घाटन पर जताई ख़ुशी, कहा सीएम नीतीश के नेतृत्व में स्वास्थ्य सेवाओं का हो रहा विकास
  • जदयू चिकित्सा सेवा प्रकोष्ठ ने पीएमसीएच में ओपीडी सहित अन्य सुविधाओं के उद्घाटन पर जताई ख़ुशी, कहा सीएम

  • 28 फरवरी को सिवान आएंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, जिलाधिकारी और एसपी ने लिया कार्यक्रम स्थल का जायजा
  • 28 फरवरी को सिवान आएंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, जिलाधिकारी और एसपी ने लिया कार्यक्रम स्थल का जायजा

  • यूपी में क्रांस वोटिंग ने अखिलेश को दिया झटका, तीन की जगह राज्यसभा की दो सीटों से ही करना पड़ा संतोष, भाजपा के खाते में आठ सीट
  • यूपी में क्रांस वोटिंग ने अखिलेश को दिया झटका, तीन की जगह राज्यसभा की दो सीटों से ही

  • भाई के हर्ष फायरिंग का वीडियो वायरल होने पर बोले लोजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष, कहा विधि सम्मत कार्रवाई के लिए हैं तैयार
  • भाई के हर्ष फायरिंग का वीडियो वायरल होने पर बोले लोजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष, कहा विधि सम्मत कार्रवाई

  • तमिलनाडु में रालोमो की इकाई गठित, टी.एस दासप्रकाश बने अध्यक्ष, उपेंद्र कुशवाहा ने दी बधाई
  • तमिलनाडु में रालोमो की इकाई गठित, टी.एस दासप्रकाश बने अध्यक्ष, उपेंद्र कुशवाहा ने दी बधाई

  •  प्रदेश की आपसी सद्भाव को खत्म करना ही जन विश्वास यात्रा का लक्ष्य  : प्रभाकर मिश्र
  • प्रदेश की आपसी सद्भाव को खत्म करना ही जन विश्वास यात्रा का लक्ष्य : प्रभाकर मिश्र

  • नालंदा पहुंचे बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने इंडिया गठबंधन पर किया हमला, कहा 7 परिवारों ने अस्तित्व बचाने के लिए बनाया एलायंस
  • नालंदा पहुंचे बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने इंडिया गठबंधन पर किया हमला, कहा 7 परिवारों ने अस्तित्व बचाने

  • 45 साल की शादीशुदा महिला के प्यार में पागल था नाबालिग, जुदा होने का गम नहीं कर सका बर्दाश्त, दे दी जान
  • 45 साल की शादीशुदा महिला के प्यार में पागल था नाबालिग, जुदा होने का गम नहीं कर सका

  • नालंदा में बदमाशों ने चाकू से गोदकर की डॉक्टर के माँ की निर्मम हत्या, परिजनों ने जमीनी विवाद में घटना को अंजाम देने का लगाया आरोप
  • नालंदा में बदमाशों ने चाकू से गोदकर की डॉक्टर के माँ की निर्मम हत्या, परिजनों ने जमीनी विवाद

  • नालंदा में बेटी का इलाज कराकर घर लौट रहे दंपत्ति को अनियंत्रित ट्रक ने रौंदा, पत्नी के सामने ही पति और पुत्री की हुई मौत
  • नालंदा में बेटी का इलाज कराकर घर लौट रहे दंपत्ति को अनियंत्रित ट्रक ने रौंदा, पत्नी के सामने

बेगूसराय गोलीकांड के पीड़ितों से मिले नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा, कहा मूकदर्शक बने बैठे हैं सीएम नीतीश

बेगूसराय गोलीकांड के पीड़ितों से मिले नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा, कहा मूकदर्शक बने बैठे हैं सीएम नीतीश

BEGUSARAI : बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा ने बेगूसराय गोलीकांड में जख्मी पीड़ित एवं उनके परिजनों से अस्पताल जाकर भेंट की। साथ ही गोलीबारी की इस घटना को अत्यंत शर्मनाक एवं दुःखद बताया है। उन्होंने कहा की 30 से 40 किलोमीटर तक अपराधी फायरिंग करते हुए चले जा रहे हैं थे और चार थाना एवं पेट्रोलिंग में लगी टीम द्वारा कहीं भी रोक टोक नहीं किया। उन्होंने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि यह राज्य में पुलिस व्यवस्था की बदहाल स्थिति को दर्शाता हैI 


सिन्हा ने कहा कि गृह विभाग की कमान विगत 17 वर्षों से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद संभाल रहे है l लेकिन आज पुलिस प्रशासन जिस कमजोर एवं बदहाल स्थिति में है यह कभी नहीं हुआ है। यह राज्य के लिए शुभ संकेत नहीं है l उनके अदूरदर्शिता का ही परिणाम है कि पुलिस प्रशासन मात्र बालू एवं दारू के उगाही में  संलिप्त है। ऊपर से नीचे तक के सभी पुलिस पदाधिकारी अपना स्वाभाविक कार्य कानून व्यवस्था ठीक रखना,अपराध नियंत्रण करना आदि में कोई रुचि नहीं ले रहे हैl बिहार पुलिस का मुखिया फोन करने पर फोन नहीं उठाते हैं। खुद को सत्ता द्वारा सुरक्षित समझे जाने के कारण पुलिस महानिदेशक जनप्रतिनिधियों को कुछ नहीं समझते हैंl जिला में पुलिस अधीक्षक को फोन करने पर  कोई इंटररेस्ट नहीं लेते हैl 

उन्होंने कहा की आज प्रशासनिक सूझबूझ और क्षमता को दरकिनार कर अपने चहेते लोगों को महत्वपूर्ण पदों पर बिठाने का नतीजा सामने आ रहा है। मुख्यमंत्री पुलिस महानिदेशक का अहम पद एक गैरजिम्मेदार और लापरवाह अधिकारी को देकर स्वयं बिहार में हो रही आपराधिक घटनाओं के मूकदर्शक बने बैठे हैं। उन्होंने कहा की बूढ़े एवं बेकार अधिकारियों को सेवानिवृत्ति दी जाए और ईमानदार पदाधिकारियों को जिले में जगह दी जाए l

आज बेगूसराय में हुए दुर्भाग्यपूर्ण गोलीकांड की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री को गृह विभाग से तत्काल इस्तीफा देना चाहिए। वैसे भी दास भाव से उनके गुण गाने वाले उनके समर्थक अक्सर चीख चीख कर बताते रहते हैं की गैसल ट्रेन दुर्घटना (1999) के बाद उन्होंने नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए रेलमंत्री के पद से इस्तीफा दिया था। आज भी नैतिकता का वही मानदंड लोगों के सामने रखने का वक़्त है। साथ ही अपने पुलिस महानिदेशक को तत्काल हटाकर कर उनसे भी बिहार की जनता को मुक्ति दिलाएं।