वोटिंग फॉर पोस्टिंग रहे DSP को सरकार ने दी जगह, रिश्वत लेते गिरफ्तार होने के बाद हुए थे निलंबित

वोटिंग फॉर पोस्टिंग रहे DSP को सरकार ने दी जगह, रिश्वत लेते गिरफ्तार होने के बाद हुए थे निलंबित

PATNA: रिश्वत लेते गिरफ्तार होने के बाद बिहार सरकार ने डीएसपी को निलंबित कर दिया था। पटना हाईकोर्ट के आदेश के बाद निलंबित डीएसपी का निलंबन 5जुलाई 2022 को खत्म किया था। साथ ही पुलिस मुख्यालय में योगदान के आदेश दिये थे। अब सरकार ने वेटिंग फॉर पोस्टिंग रहे डीएसपी की पोस्टिंग कर दी है।

सरकार ने जारी की अधिसूचना

गृह विभाग ने पुलिस मुख्यालय में वेटिंग फॉर पोस्टिंग रहे चंदन पुरी की पोस्टिंग कर दिया है। इन्हें पुलिस मुख्य़ालय में पुलिस उपाधीक्षक बनाया गया है। इस संबंध में गृह विभाग ने अधिसूचना जारी कर दी है। 

2016 में रिश्वत लेते हुए थे गिरफ्तार 

बता दें, बिहार सरकार ने 5 जुलाई को ही निलंबित डीएसपी का निलंबन खत्म कर दिया था. पटना हाई कोर्ट के आदेश के बाद गृह विभाग ने अधिसूचना जारी की थी.  2016 में निगरानी ब्यूरो ने जयनगर के तत्कालीन अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी चंदन पुरी को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया था .इसके बाद सरकार ने आरोपी एसडीपीओ को 17 नवंबर 2016 को निलंबित कर दिया था.गृह विभाग ने निलंबन के साथ ही 5 जनवरी 2018 को विभागीय कार्यवाही संचालित करने का आदेश जारी किया था. तब से लेकर अब तक विभागीय कार्यवाही प्रक्रियाधीन है. इधर निलंबित डीएसपी चंदन पुरी ने पटना उच्च न्यायालय में केस दायर किया. हाईकोर्ट ने 29 अप्रैल 2021 को निलंबित तत्कालीन अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी जयनगर को निलंबन मुक्त करने का न्यायादेश पारित किया था.

Find Us on Facebook

Trending News