छठ के लिए कर रहे थे घाट की साफ सफाई, अचानक नदी से निकला मगरमच्छ और एक युवक को बनाया अपना शिकार, डर के मारे नहीं बचाने आया कोई

छठ के लिए कर रहे थे घाट की साफ सफाई, अचानक नदी से निकला मगरमच्छ और एक युवक को बनाया अपना शिकार, डर के मारे नहीं बचाने आया कोई

MUZAFFARPUR : महापर्व को लेकर बिहार के सभी नदियों के किनारें बने घाटों की साफ सफाई का काम जोर शोर से चल रहा है। प्रशासन के साथ स्थानीय समितियां भी इसमें पूरा सहयोग कर रही हैं। मुजफ्फरपुर स्थित बागमती नदी में भी छठ के लिए घाट की सफाई का काम चल रहा था। लेकिन इसी दौरान एक बड़ा हादसा हो गया। यहां सफाई का काम करने के दौरान एक मगरमच्छ ने युवक को अपना शिकार बनाते हुए उसे निगल लिया। मगरमच्छ के हमले का डर इतना था कि वहां मौजूद दो दर्जन लोगों में से किसी ने युवक को बचाने की कोशिश भी नहीं की। मृतक की पहचान भवानीपुर के 25 वर्षीय श्रवण कुमार के रूप में की गयी है। 

हादसा में बागमती नदी के किनारे बसे बररी पंचायत के भवानीपुर गांव की है।  श्रवण सहित गांव के कुछ लोग नदी किनारे घाट की साफ सफाई के लिए गए हुए थे। इसी दौरान घाट की सफाई के बाद श्रवण नदी में नहाने के लिए चला गया। तभी पानी की गहराइयों के बीच एक मगरमच्छ ने उसका पैर पकड़कर पानी के अंदर खिंच लिया। अचानक हुए इस घटना के बाद वहां मौजूद 25 लोग उसे छोड़कर भाग गए। घाट की सफाई कर रहे अन्य लोग डरकर बचाने नहीं आये। 

स्थानीयों ने बताया कि बीते कई दिनों से नदी के किनारे पर मगरमच्छ दिखाई दे रहे हैं। नदी में कई मगरमच्छ के होने आशंका भी जताई जा रही है। इससे पहले एक मछुआरे को भी मगरमच्छ ने निगलने की कोशिश की थी, लेकिन उसकी जान बच गयी। 

हादसे की सूचना के बाद पुलिस टीम घाट पर पहुंची। पुलिस ने स्थानीय लोगों को सावधनी बरतने के निर्देश दिए हैं। एनडीआरएफ की टीम के पहुंचने के बाद युवक के लाश की तलाश की जायेगी। साथ ही साथ मगरमच्छ को रिहायशी इलाकों से दूर नदी में छोड़ा जाएगा। पुलिस ने गांव के लोगों को छठ मनाने के लिए घाट पर नदी के किनारे से दूर रहने का निर्देश दिया है।


Find Us on Facebook

Trending News