चलती ट्रेन में जब दर्द से तड़प उठी गर्भवती, तब दानापुर में 'मेरी सहेली' ने करायी डिलीवरी, जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित

चलती ट्रेन में जब दर्द से तड़प उठी गर्भवती, तब दानापुर में 'मेरी सहेली' ने करायी डिलीवरी, जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित

DANAPUR: दानापुर में बुधवार की शाम ट्रेन संख्या 03256 जो चण्डीगढ़ से पाटलिपुत्र को जाती है, इसमें एक गर्भवती अपने संध्या कुमारी अपने पति इंद्रजीत कुमार के साथ सफर कर रहीं थी। बताया जा रहा है कि संध्या कुमारी 9 महीने की गर्भवती थीं। 

सफर के दौरान संध्या कुमारी को अचानक पेट में पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन पार करते ही पेट में प्रसव पीड़ा शुरू हो गयी। साथ में सफर कर रहे संध्या कुमारी के पति इंद्रजीत कुमार जो चंडीगढ़ में पोस्ट आफिस कूरियर में काम करते हैं, उसने रेलवे हेल्पलाइन नंबर में फोन कर मदद मांगी। मदद के लिए फोन आते ही "मेरी सहेली" की टीम सतर्क हो गयी और जैसे ही ट्रेन दानापुर स्टेशन पहुंची पहले से तैनात "मेरी सहेली" की टीम ने अविलंब बिना कुछ देर किए दानापुर में तत्काल में रेलवे एम्बुलेंस के साथ मेडिकल टीम पहुंच गयी। आनन-फानन में संध्या कुमारी को रेलवे अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां संध्या ने स्वस्थ एवं सुरक्षित बच्ची को जन्म दिया।

इंद्रजीत ने बताया कि में अपने पत्नी के साथ मानसी जा रहे थे। अचानक पत्नी को दर्द देख कर तुरन्त रेलवे हेल्पलाइन नंबर पर फोन किया और दानापुर में मेडिकल टीम मौजूद थी। जिसे इलाज के लिए रेलवे अस्पताल लाया गया। जहां पत्नी ने पहली बेटी को जन्म दिया जिसका नाम करिश्मा रखा है। अब उनकी पत्नी और बच्चा दोनों स्वस्थ है। इसको लेकर इंद्रजीत ने मेरी सहेली टीम को कोटि-कोटि बधाई दी है, कि उनकी पत्नी औऱ बच्ची की जान वक्त रहते बच गई। यदि समय पर उचित इलाज नहीं मिलता, तो स्थिति गंभर हो सकती थी।

Find Us on Facebook

Trending News