उद्घाटन कौन करेगा...विवाद गहराया तब क्षण भर में किया था समाधान ! पूर्व DGP ने साझा किया संस्मरण, लिखा- यह 'फार्मूला' कारगर

उद्घाटन कौन करेगा...विवाद गहराया तब क्षण भर में किया था समाधान ! पूर्व DGP ने साझा किया संस्मरण, लिखा- यह 'फार्मूला' कारगर

PATNA: भारत के नए संसद भवन के उद्घाटन को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष आमने-सामने है. 28 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के नए संसद भवन का उद्घाटन करने वाले हैं. इधऱ,कांग्रेस समेत 19 विपक्षी पार्टियों ने 28 मई को नई संसद के उद्घाटन समारोह का बायकॉट करने का फैसला लिया है. उनका कहना है कि इसका उद्घाटन पीएम मोदी की बजाय राषट्रपति द्रौपदी मुर्मू के हाथों होना चाहिए. संसद भवन का उद्घाटन प्रधानमंत्री करें या राष्ट्रपति इस पर राजनीतिक विवाद जारी है. इधर कड़क, ईमानदार आईपीएस व बिहार के पूर्व डीजीपी ने उद्घाटन कौन करेगा...इस पर सभी को एक सलाह दी है.

उद्घाटन कौन करेगा..हमने विवाद का किया था समाधान 

बिहार के पूर्व डीजीपी अभयानंद ने सोसळ मीडिया के माध्यम से अपने विचार व्यक्त किये हैं. साथ ही वाकया बताया है. पूर्व डीजीपी लिखते हैं कि, उद्घाटन कौन करेगा ? यह विवाद गहरा गया है। मेरे सेवाकाल में भी इस प्रकार की समस्या आई। मेरे निर्देशन में, सिपाहियों ने अपने पैसे जमा कर, एक बहुत अच्छा अस्पताल अपने और अपने परिवार के लिए बनवाया था। यह 20 बेड का बढ़िया अस्पताल था। निर्माण के बाद प्रश्न आया कि उद्घाटन कौन करेगा?

सबसे उम्रदार व्यक्ति उद्घाटन करेगा

अस्पताल का उद्घाटन कौन करेगा...यह प्रश्न सामने आया. यह विवाद निर्णय के लिए मेरे समक्ष आया। मेरा निर्णय हुआ,'' पुलिस परिवार का सबसे उम्रदार व्यक्ति उद्घाटन करेगा।" इसके बाद उस व्यक्ति को ढूंढा गया। निकला झाड़ूकश और नाम था गणेश राम। पूरी पुलिस समारोह में उद्घाटन संपन्न हुआ। आज भी उस अस्पताल जिसका नाम कमांड हॉस्पिटल है. उसके शिलापट्ट पर "झाड़ूकश गणेश राम" का नाम अंकित है।

Find Us on Facebook

Trending News