आज की ताजा खबर, एक क्लिक में पढ़िए बिहार की सभी बड़ी खबरें...

आज की ताजा खबर, एक क्लिक में पढ़िए बिहार की सभी बड़ी खबरें...

PATNA : हम आपके लिए ले कर आए हैं आज की ताजा खबर।आपको हम ताजा खबरों से रूबरू कराएंगे जिनका आप से सीधा सरोकार है।  एक क्लिक में पढ़िए 27 जून की बिहार की सभी बड़ी खबरें...

सुशील मोदी ने सीएम नीतीश को अपना निर्णय बदलने की दे डाली सलाहकहा- लोकसभा चुनाव में धारा 370 हटाने का मिला है मैंडेट

बिहार के डिप्टी सीएम और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने बिना नाम लिए सीएम नीतीश कुमार को सलाह दे डाली है। सुशील मोदी ट्वीट कर निर्णय पर पुनर्विचार करने की राय दी है। सुशील मोदी ने कहा है कि इस बार के संसदीय चुनाव में कश्मीर से धारा 370 को हटाने का मैंडेट मिला है ऐसे में जो दल इस मुद्दे पर नरम रुख रखे हुए हैं उन्हें अपने निर्णय पर पुनर्विचार करना चाहिए।सुशील मोदी ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि इस बार जनता ने कश्मीर से धारा 370 की समाप्ति और अलगाववाद पर कड़े रुख के लिए जनादेश मिला है। ऐसे में माना जा रहा है कि सुशील मोदी अपने ट्वीट के माध्यम से बिहार के सीएम नीतीश से धारा 370 को लेकर अपना स्टैंड बदलने की अपील कर रहे हैं। बता दें कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कई अवसरों पर कश्मीर में धारा 370 का बचाव किया है। नीतीश ने घोषणा कर रखी है कि उनकी पार्टी धारा 370 को लेकर बीजेपी के स्टैंड से सहमत नहीं है। धारा 370 हटाने को लेकर जेडीयू बीजेपी का साथ नहीं देगी।


ममता बनर्जी से दूसरी बार मिले प्रशांत किशोरतस्वीर आई सामने

जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने आज दूसरी बार पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की है। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच अगले विधानसभा चुनाव को लेकर चर्चा हुई है। प्रशांत किशोर की ममता बनर्जी से मुलाकात के बाद की तस्वीर सामने आई है। इसके पहले भी प्रशांत किशोर ने ममता बनर्जी से मुलाकात की थी। प्रशांत किशोर के मुलाकात पर बिहार में सवाल भी उठे थे लेकिन सीएम नीतीश कुमार ने यह कहते हुए पीके के बचाव किया था कि मुलाकात में कोई हर्ज नहीं है ये उनका निजी मामला है।बताया जा रहा है कि प्रशांत किशोर आगामी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के लिए चुनावी रणनीति बनाएंगे। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में बीजेपी और टीएमसी के बीच कांटे की टक्कर होने की उम्मीद है।


लालू-राबड़ी के खास MLC ने घूसखोर असिस्टेंट कमिश्नर को रंगे हाथ कराया गिरफ्तार..तस्वीर देखिए

लालू राबड़ी परिवार के ख़ास विधान पार्षद सुबोध राय से घूस मांगना जीएसटी कमिश्नर को महंगा पड़ गया. राजद विधान पार्षद ने इसकी शिकायात पटना में सीबीआई  अधिकारियों से की जिसके बाद बिछाये जाल में असिस्टेंट कमिश्नर फंस गए और रंगे हाथ गिरफ्तार हो गए.गौरतलब है कि सेंट्रल जीएसटी के असिस्टेंट कमिश्नर को ढ़ाई लाख रू घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है।सीबीआई ने उस बुद्धमार्ग स्थित दफ्तर से गिरप्तार किया है।टीम उसे गुप्त स्थान पर ले जाकर पूछताछ कर रही है। बताया जाता है कि असिस्टेंट कमिश्नर राजद एमएलसी सुबोघ राय से घूस ले रहा था तभी सीबीाआई की रेड हो गयी और असिस्टेंट कमिश्नर चंदन पांडेय को  रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया गया।


बीजेपी के रास्ते चल पड़े नीतीशअब जेडीयू बनाएगी ऑनलाईन सदस्य...

जेडीयू भी अब अपनी सहयोगी बीजेपी के रास्ते चल पड़ी है।भाजपा की तरह जदयू भी अब ऑनलाईन सदस्य बना रही है।पार्टी ने इसकी शुरूआत कर दी है। पार्टी के राष्ट्रीय सचिव रवीन्द्र प्रसाद सिंह ने बताया कि जनता दल (यू0) का ऑनलाईन सदस्यता अभियान भी शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि देश भर के जो लोग या पार्टी समर्थक जदयू से जुड़ना चाहते हैं या पार्टी की सदस्यता लेना चाहते हैं वो ऑनलाईन अप्लाई कर सकते हैं। पार्टी के अधिकृत पोर्टल JANTADALUNITED.ONLINE पर जाकर पार्टी की प्रारंभिक सदस्य बन सकते हैं। बता दें कि जनता दल (यू0) का वर्ष 2019-22 के लिए पूरे देश में सदस्यता भर्ती अभियान जोरों पर है। देश के अन्य प्रदेशों में सदस्यता को लेकर काम किया जा रहा है।वहीं बिहार के अन्दर पंचायत एवं वार्ड स्तर पर भी सदस्यता अभियान जारी है।

पटना में विरोध प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों पर लाठीचार्जपुलिस ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

पटना मेंआंदोलनकारी कंप्यूटर शिक्षकों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया है। शिक्षक अपनी नौकरी की मांग को लेकर गुरुवार को विधानसभा का घेराव करने निकले थे इसी दौरान पुलिस से उनकी नोंक झोंक हुई। इसके बाद पुलिस ने आंदोलनकारी शिक्षकों पर जमकर लाठीचार्ज किया है। बता दें कि 1832 कंप्यूटर शिक्षक पिछले 675 दिनों से गर्दनीबाग में धरना पर हैं। पहले से तय कार्यक्रम के तहत आज इन शिक्षकों ने अपनी मांगों को लेकर बिहार विधान सभा को घेरना चाहा। पुलिस ने पहले से ही शिक्षकों को रोकने की पूरी तैयारी कर ली थी।विधानसभा मार्च करने निकले शिक्षकों को पुलिस ने रोकने की पूरी कोशिश की। लेकिन शिक्षकों ने मार्च निकालना शुरु कर दिया।  गर्दनीबाग में पुलिस ने शिक्षकों के साथ नोक-झोंक के बाद लाठीचार्ज किया। बताया जा रहा है कि लाठीचार्ज में कई शिक्षकों को चोटें आई हैं।

बिहार को मिले 30 डीएसपी,गृह विभाग ने योगदान के लिए जारी की अधिसूचना...

बिहार लोकसेवा आयोग की 60 वीं-62 वीं परीक्षा के आधार पर बिहार पुलिस को 30 पुलिस उपाधीक्षक मिले हैं।गृह विभाग ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है।सभी 30 डीएसपी को पुलिस मुख्यालय में योगदान का आदेश दिया गया है।योगदान के समय सभी कागजात लाना जरूरी होगा।

तेजप्रताप के निर्णय को बीजेपी ने सराहा,कहा- तेजस्वी से ज्यादा काबिल हैं लालू के बड़े लाल

तेजप्रताप यादव की तरफ से तेज सेना बनाए जाने की घोषणा को बीजेपी ने बेहतर कदम बताया है।बीजेपी ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में तेजस्वी यादव फेल हो गए हैं।लेकिन तेजप्रताप क्रिएटिव आईडिया के साथ राजद कार्यकर्ताओं के गिरे मनोबल को बढ़ाने का काम कर रहे हैं। बिहार बीजेपी के प्रवक्ता डा. निखिल आनंद ने कहा है कि तेजप्रताप यादव में तेजस्वी से बेहतर नेतृत्व क्षमता है।लालू प्रसाद की अनुपस्थिति में तेजप्रताप यादव राजद का बेहतर तरीके से नेतृत्व कर सकते हैं। बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने ट्वीट कर तंज कसा है और कहा है कि राजद के भविष्य के लिए तेजस्वी यादव से तेजप्रताप ज्यादा सक्षम और बेहतर हो सकते हैं। दरअसल तेजप्रताप यादव ने बुधवार को अपने ट्वीटर पर तेज सेना बनाने का एलान किया था।उन्होंने लिखा था कि 28 जून को तेज सेना की लॉंचिंग होगी।उन्होंने आगे लिखा था कि तेज सेवा ज्वाईन करने के लिए ऑनलाईन फार्म भरें ,उसके बाद सदस्यता मिलेगी।

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद तेजस्वी यादव बिहार की राजनीति से गायब हैं.वे पिछले 29 दिनों से अज्ञातवास में हैं।इसी बीच अब लालू के बड़े लाल तेजप्रताप य़ादव ने तेज सेना बनाने के एलान कर दिया है।इस एलान के बाद एक बार फिर से बीजेपी ने लालू परिवार को घेरा है ।

सीतामढ़ी में बेखौफ अपराधियों का तांडव, बस से उतारकर दवा व्यवसायी को मारी गोली

जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां बेखौफ अपराधियों ने एक दवा व्यवसायी को दिन-दहाड़े गोली मार दी। वहीं रुपयों से भरा बैग लेकर फरार हो गए। घटना में गंभीर रुप से घायल व्यवसायी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।घटना के संबंध में बताया गया है कि आज जिले के मेजरगंज थाना क्षेत्र के हेलीमपुर गांव के समीप बिट्टा से सीतामढ़ी जा रही बस को अपराधियों ने ओवरटेक कर रोक लिया। उसके बाद बस में सवार एक दवा व्यवसायी को हथियार के बल पर नीचे उतार कर गोली मार दी और उसके पैसे लेकर फरार हो गए।घटना में गंभीर रुप से घायल दवा व्यवसायी को आनन-फानन में इलाज के लिए स्थानीय निजी क्लिनिक में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत चिंताजनक बताई जा रही है। इधर इस मामले में सीतामढ़ी एसपी ने बताया कि घटना को जमीन विवाद में अंजाम दिए जाने की बात सामने आ रही है। पुलिस जमीन विवाद के साथ-साथ सभी बिंदुओं को ध्यान में रखते हुए जांच में जुटी है।  

उपेन्द्र कुशवाहा ने किया एलान,जुलाई के पहले हफ्ते में मुजफ्फरपुर से पटना तक करेंगे पदयात्रा

आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा भले हीं लोकसभा का चुनाव हार गए हों बावजूद इसके राज्य सरकार के खिलाफ लड़ाई में पीछे नहीं हटे हैं।मुजफ्फरपुर में एईएस से सैकड़ों मासूमों की मौत मामले में नीतीश सरकार को घेरने के लिए कुशवाहा बड़ा कार्यक्रम करने वाले हैं।वे 29 जून को मुजफ्फरपुर में बड़ा धरना करेंगे। इसके बाद अगले महीने के पहले हफ्ते में मुजफ्फरपुर से पटना तक पदयात्रा करेंगे।कुशवाहा ने कहा कि बिहार में मासूमों की मौत के लिए सीएम नीतीश कुमार जिम्मेवार हैं।उन्हें मुख्यमंत्री के पद से तत्काल इस्तीफा देना चाहिए। पटना में प्रेस कांफ्रेंस में उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि एक पल के लिए भी नीतीश कुमार को गद्दी पर रहने का हक नहीं।हालांकि कुशवाहा ने स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के इस्तीफे के सवाल पर कहा कि नीतीश कुमार जब से सीएम बने हैं तब से बिहार में कई स्वास्थ्य मंत्री हुए हैं..ऐसे में सिर्फ स्वास्थ्य मंत्री को दोष देना ठीक नहीं।पूरी जिम्मेवारी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की है जो 15 सालों से मुख्यमंत्री की कुर्सी पर हैं।

अपमान से क्षुब्ध होकर बिहार के जिलापरिषद अध्यक्षों ने कार्यक्रम का किया बहिष्कारअधिकारियों पर अपमानित करने का आरोप

अपने अपमान से परेशान बिहार के जिलापरिषद अध्यक्षों ने आपदा प्रबंधन विभाग के कार्यक्रम का बहिष्कार कर दिया। जैसे हीं प्रशिक्षण का कार्यक्रम शुरू हुआ वैसे हीं वहां मौजूद सभी जिलापरिषद अध्यक्षों ने अधिकारियों पर पंचायत प्रतिनिधियों को अपमानित करने का आरोप लगाते हुए बाहर निकल लिए।जिप अद्यक्षों के बाहर निकलने के साथ हीं आपदा प्रबंधन विभाग का जोखिम न्यूनीकरण प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रशासनिक लापरवाही की भेंट चढ़ गया। दरअसल आपदा प्रबंधन की तरफ से बिहार के सभी 38 जिलों के जिलापरिषद अध्यक्षों का दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम था।प्रशिक्षण कार्यक्रम पटना के बामेति सभागार में आयोजित की गई थी।लेकिन वहां पर भारी अव्यवस्था का आलम था। जिले की सबसे बड़ी पंचायत के अध्यक्षों को बच्चों के बैठने वाले बेंच पर बिठा दिया गया था।इतना हीं नहीं हॉल में भारी कुव्यवस्था थी।लिहाजा जिलापरिषद अध्यक्षों ने अपने आप को अपमानित महसूस करते हुए कार्यक्रम छोड़कर बाहर निकल गए।

Find Us on Facebook

Trending News