रोहिणी कोर्ट में हुई गोलीबारी से गुस्से में बार काउंसिल, सरकार के सामने रखी मांग - सुरक्षा के लिए विशेष रूप पटना प्रशिक्षित सुरक्षाकर्मियों की करें तैनाती

रोहिणी कोर्ट में हुई गोलीबारी से गुस्से में बार काउंसिल, सरकार के सामने रखी मांग - सुरक्षा के लिए विशेष रूप पटना प्रशिक्षित सुरक्षाकर्मियों की करें तैनाती

NEW DELHI : दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में अपराधियों द्वारा गोलीबारी और हत्या की घटना को बार कॉउन्सिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मनन कुमार मिश्र ने काफी गंभीर घटना माना।उन्होंने कहा कि इससे प्रमाणित हो गया की देश में अदालतों की सुरक्षा व्यवस्था कितनी लचर और बेकार हैं।

इस प्रकार की सुरक्षा व्यवस्था में जज,वकील,मुवक्किल और आम जनता कोर्ट में कतई सुरक्षित नहीं है।उन्होंने बताया कि एक मामले मे बार कॉउन्सिल ऑफ इंडिया ने हलफनामा दायर किया है। इसमें अदालती सुरक्षा के लिए विशेष रूप पटना प्रशिक्षित सुरक्षाकर्मियों के तैनाती की बात कहीं गई हैं।

उन्होंने स्पष्ट कहा कि इस।घटना ने प्रमाणित किया है कि एड्वोकेट प्रॉटेक्शन एक्ट की मांग कितनी जायज और सही है। अपराधियों के निशाने पर अदालतें हमेशा रही है, जिसका नतीजे में हजारों वकीलों ने अपनी जानें गंवाई है। उन्होंने धनबाद की घटना का भी जिक्र किया, जिसमें एक जज की हत्या हुई। उन्होंने स्पष्ट माँग की कि अदालतों की सुरक्षा व्यवस्था में आमूलचूल परिवर्तन की जरुरत है, जिसके लिए प्रभावी और कारगर सुरक्षा व्यवस्था हो।

Find Us on Facebook

Trending News