न सुई न रुई पर केंद्रीय मंत्री के फीता काटने के लिए बहा दिए गए लाखों रुपए, पढ़िए पूरी खबर

मोतिहारी- जिस वेलनेस अस्पताल का केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने अपने संसदीय क्षेत्र में पूरे ताम-झाम के साथ उद्घाटन किया था उसकी हकीकत जानकर आप चौंक जायेंगे।

दरअसल मंत्री महोदय ने अपने संसदीय क्षेत्र पूर्वी चंपारण के मलाही में 18 फरवरी को वेलनेस सेंटर का उद्घाटन किया था. लिहाजा उसमें स्वास्थ्य महकमे ने लाखों रूपए खर्च कर दिए गए. फीता काटने में आगे रहने वाले केंद्रीय मंत्री ने वेलनेस अस्पताल का भी फीता काटने से पहले पूरा माहौल बनाया. भाषणबाजी हुई हर बार की तरह माइक थामकर मंत्री जी ने विकास की गंगा माइक पर ही बहा दी. मंत्रीजी के नुमाइंदों ने ताली ठोकने में भी कोई कमी नहीं की. इस दौरान जिले के सिविल सर्जन सहित अन्य विधायक और स्थानीय लोग मौजूद रहे.

बीपी मशीन-ड्रेसिंग कीट भी घर से ला रहे हैं डॉक्टर
 
केंद्रीय कृषि मंत्री ने जिस अस्पात का उद्घाटन किया उसका हाल जानकर आपको ताज्जुब होगा. इस अस्पातल में बीपी मशीन, ड्रेसिंग कीट तक नहीं है. बाहर से अस्पातल को चमकाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी गई है. लेकिन अंदर का हाल बेहाल है.जिसे अस्पताल के उद्घाटन में लाखों बहा दिए गए उस अस्पताल में डॉक्टर घर से बीपी मशीन लाकर लोगों का इलाज करने मे जुटे हैं. ताज्जुब तो तब होती है जब वहां का एक डॉक्टर यह बताता है कि बीपी मशीन तो बड़ी बात है यहां रुई तक का इंतजाम नहीं है.

हेल्थ-वेलनेस सेंटर के लिए 7 लाख रूपए है अलॉट
सरकार द्वारा सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए हेल्थ वेलनेस सेंटर खोलने का निर्णय लिया गया .जिसके लिए 7 लाख का बजट दिया गया . सेंटर पर 24 घंटे चिकित्सक,पैथलॉजी,प्रशव की सुसज्जित व्यवस्था देना का प्रावधान है. अस्पताल के चिकित्सक डॉ. किशोरी पासवान ने बताया कि यहां बीपी मशीन भी नहीं है और न ड्रेसिंग कीट की सुविधा मुहैया करवाई गई है. बीपी मशीन को हम अपने घर से लाते हैं.चिकित्सक कि माने तो यहां दो चिकित्सकों की प्रतिनियुक्ति की गई है 

जल्द होगी सुविधा बहाल करने का दावा
 अरेराज अनुमंडलीय अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. नीरज कुमार ने स्वीकार किया है कि मलाही वेलनेस सेंटर में संसाधन की कमी है. लेकिन उसे जल्द ही बहाल कर लिया जाएगा.उन्होंने स्वीकार किया कि उस अस्पताल के लिए 7 लाख रूपये का बजट है जिसमें 2.5 लाख रूपये खर्च भी हो चुके हैं.

Find Us on Facebook

Trending News