डीजीपी के आदेश के बाद भी स्थानीय पुलिस ने घर तोड़नेवालों पर नहीं की कार्रवाई, सीएम के जनता दरबार में पहुंची शिकायत

डीजीपी के आदेश के बाद भी स्थानीय पुलिस ने घर तोड़नेवालों पर नहीं की कार्रवाई, सीएम के जनता दरबार में पहुंची शिकायत

PATNA : मुख्यमंत्री के जनता दरबार में सोमवार को पुलिस और जमीन से जुड़े मामलों की सुनवाई हुई। जिसमें पहुंचे कई लोगों ने सीएम के सामने जमीन पर कब्जा और पुलिस द्वारा कार्रवाई नहीं करने की शिकायत की। इन लोगों की शिकायत सुनने के बाद खुद सीएम भी हैरान थे कि लोगों में पुलिस के काम को लेकर कितनी नाराजगी है।

डीजीपी के निर्देश के बाद भी नहीं हुई कार्रवाई

जनता दरबार में अपनी शिकायत लेकर पहुंचे एक फरियादी ने बताया कि 11 साल पहले पहले पत्नी और मां के नाम पर जमीन लेकर घर बनाया। लेकिन दो शिक्षकों ने 20 लोगों की मदद से घर तोड़ दिया। पीड़ित ने सीएम को बताया कि पहले तो स्थानीय पुलिस ने कोई मदद नहीं की। फिर जब घटना का वीडियो तत्कालीन डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को भेजा तो उनके निर्देश एफआईआर दर्ज किया गया। लेकिन इसके बाद कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।


PWD जमीन पर कब्जा कर बंद कर दिया रास्ता

वहीं एक दूसरी शिकायत में एक व्यक्ति ने घर के आगे PWD की खाली जमीन पर अवैध कब्जा करने और रास्ता बंद करने की शिकायत की। उसका कहना था कि आंधी में उसका घर गिर गया। घर के सामने PWD की खाली जमीन थी, जिस पर कुछ लोगों ने कब्जा जमा लिया है और रास्ता भी बंद कर दिया गया है। PWD और पुलिस से शिकायत के बाद भी कोई कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

जमीन मालिक की बहन ने किया कब्जा

सीएम के जनता दरबार में पहुंचे एक युवक ने बताया कि उनके पिता ने एक व्यक्ति से जमीन खरीदी, सारे कागजात भी हमारे नाम पर है, लेकिन पूर्व जमीन मालिक की बहन ने उस जमीन पर कब्जा कर लिया है और जगह खाली करने के लिए 20 लाख की मांग कर रही है। मामले में पुलिस के पास भी गए लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

Find Us on Facebook

Trending News