जेईई और नीट परीक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंचे 6 राज्य, परीक्षा स्थगित करने की मांग को लेकर दाखिल की रिव्यू पिटीशन

जेईई और नीट परीक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंचे 6 राज्य, परीक्षा स्थगित करने की मांग को लेकर  दाखिल की रिव्यू पिटीशन

NEWS4NATION DESK : कोरोना संकट के बीच अगले महीने होने वाली जेईई और नीट परीक्षा होने जा रही है। जेईई परीक्षा 1 सितंबर से 6 सितंबर 2020 के बीच होनी है। वहीं एनईईटी की परीक्षा 13 सितंबर 2020 को आयोजित होगी। कोरोना महामारी फैली होने और परिवहन व्यवस्थाओं पर कई तरह की पाबंदियां होने के चलते देशभर से छात्र संगठन और विपक्षी दल परीक्षा को फिलहाल टाल देने की अपील कर रहे हैं। कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और कई दूसरे दल इसको लेकर सड़कों पर हैं।

अब इस परीक्षा को फिलहाल टाल देने की मांग को लेकर छह राज्यों ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। पश्चिम बंगाल, झारखंड, राजस्थान, छत्तीसगढ़, पंजाब और महाराष्ट्र की ओर से सुप्रीम कोर्ट में रिव्यू पिटीशन दाखिल की गई है। इस याचिका में सुप्रीम कोर्ट से 17 अगस्त के उसके आदेश की समीक्षा की मांग की गई है, जिसमें कोर्ट ने परीक्षा कराने को हरी झंडी दी है। याचिका में कहा गया है कि कोरोना महामारी को देखते हुए सितंबर में होने वाली जेईई और नीट परीक्षा को स्थगित कर दिया जाए।

बता दें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को सात राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने नीट और जेईई परीक्षा का मुद्दा उठाते हुए कहा था कि नीट-जेईई का एग्जाम होना फिलहाल सुरक्षित नहीं है। अगर केंद्र सरकार इस पर नहीं सुनती है तो जेईई और नीट की परीक्षा को स्थगित करने के लिए हमें संयुक्त रूप से सुप्रीम कोर्ट में अपील करनी चाहिए। 

उन्होंने कहा था कि मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कई पत्र लिखे हैं और कहा है कि जब छात्र परेशान हैं तो ऐसी स्थिति में केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट में अपील कर रिव्यू की मांग कर सकती है। मैं सभी राज्य सरकारों से अपील करती हूं कि सुप्रीम कोर्ट में चलें और एग्जाम टालने की मांग करें। जिसके दो दिन बाद आज छह राज्य सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News