नवादा में महिलाओं के वोट से होगा हार जीत का खेल, पढ़िए क्या है जिले का पूरा समीकरण

नवादा में महिलाओं के वोट से होगा हार जीत का खेल, पढ़िए क्या है जिले का पूरा समीकरण

नवादा :  जिले भर में आधी आबादी (महिलाओं) की भागीदारी हर क्षेत्र में काफी बढ़ी है। पुरुषों के साथ कंधा से कंधा मिलाकर विकास की गाथा लिख रही है। चुनावी क्षेत्र में महिलाओं ने बढ़-चढ़कर भाग लिया है। इन सारी बातों के बीच जिले में दिलचस्प पहलू यह है कि सुरक्षित विधानसभा क्षेत्र रजौली में आधी आबादी सामान्य क्षेत्रों पर बढ़त पा रही हैं। 

मतदाता सूची में लिगानुपात की दृष्टिकोण से सुरक्षित सीट की महिलाएं सामान्य क्षेत्रों की तुलना में काफी आगे हैं। जिले की मतदाता सूची पर गौर करें तो पुरुषों की अपेक्षा महिला वोटरों की संख्या में काफी अंतर है। निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, पूरे जिले का मतदाता सूची का लिगानुपात 927 है। वहीं 2011 की जनसंख्या के दृष्टिकोण से जिले का लिगानुपात 939 है। विधानसभा वार मतदाता सूची के लिगानुपात के आंकड़ों पर गौर करें तो सुरक्षित विधानसभा क्षेत्र रजौली एक मात्र ऐसा क्षेत्र है जहां की मतदाता सूची का लिगानुपात 939 है। यानि कि जिले के जनसंख्या के लिगानुपात के बराबर।


नवादा जिले में पांच विधानसभा क्षेत्र हैं, रजौली, गोविदपुर, हिसुआ, नवादा और वारिसलीगंज। जिसमें मतदाता सूची के लिगानुपात पर गौर करें तो वारिसलीगंज की स्थिति खराब है। इस विधानसभा क्षेत्र का लिगानुपात महज 919 है। वहीं हिसुआ का 923, नवादा का 932 और गोविदपुर विधानसभा क्षेत्र का लिगानुपात 925 है। मतदाता सूची में नाम जोड़ने, हटाने, शुद्धिकरण आदि की प्रक्रिया सतत जारी है। वर्ष 2015 और 2020 की मतदात सूची पर गौर करें तो जिले में पिछले पांच सालों में 73 हजार 760 महिलाओं के नाम मतदाता सूची में जोड़े गए। 

चुनाव को लेकर आधी आबादी में अब उत्साह देखने को मिलने लगा है। गत वर्षों में संपन्न चुनावों में यह देखने को मिला है कि पुरुषों को पछाड़ते हुए आधी आबादी ने अधिक वोटिग की।पांच सालों में 73 हजार महिलाओं के नाम जुड़े


महिलाओं के कुल वोट

2015 में - 749121

2020 में - 822881

विधानसभा वार लिगानुपात

रजौली - 939

हिसुआ - 923

नवादा - 932

गोविदपुर - 925

वारिसलीगंज - 919

Find Us on Facebook

Trending News