महिला क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के लिए जयपाल सिंह मुंडा खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित की गई नवादा की शुभ लक्ष्मी शर्मा

महिला क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के लिए जयपाल सिंह मुंडा खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित की गई नवादा की शुभ लक्ष्मी शर्मा

RANCHI/NAWADA :   मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा की 120वीं जयंती पर उम्मीद फाउंडेशन की ओर से राज्य के खिलाड़ियों और अन्य क्षेत्र में विशिष्ठ योगदान देने वालों को सम्मानित किया गया। मंगलवार को कांके रोड स्थित सीएमपीडीआइ के मयूरी सभागर में आयोजित जयपाल सिंह मुंडा खेल रत्न अवार्ड 2022 समारोह में इन सभी विभूतियों को सम्मान मिला। कार्यक्रम में हॉकी खिलाड़ी सलीमा टेटे, निक्की प्रधान, ब्लाइंड क्रिकेटर सुजीत मुंडा, महिला क्रिकेट खिलाड़ी शुभ लक्ष्मी शर्मा, वुशू की खिलाड़ी गीता खलखो, लॉन बाल की रूपा रानी तिर्की, लवली चौबे को  खेल रत्न से सम्मानित किया गया।

शुभ लक्ष्मी शर्मा को उत्कृष्ट महिला क्रिकेट में अहम भागीदारी निभाने के लिए  जयपाल सिंह मुंडा खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया। शुभ लक्ष्मी शर्मा बिहार नवादा की रहने वाली है ।झारखंड में भी लम्बे समय तक खेल कूद के साथ साथ महिला क्रिकेट में अग्रणी भूमिका निभाई है।  हजारीबाग में जन्मी  शुभ लक्ष्मी ने अपना डेबु मैच इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। जब एक ही पाली मे चार विकेट लिया था। वहीं वर्ष 2012से 2015 के बीच टी 20 दो विश्व कप मैच खेल चुकी है। वर्ष 2013 में विश्वकप भी खेल चुकी है। शुभ लक्ष्मी शर्मा एक तेज गेंदबाज महिला क्रिकेटर है।

खेल रत्न से सम्मानित सुजीत मुंडा का ब्लाइंड T20 विश्वकप 2022 जीतने वाली टीम में काफी योगदान रहा है। टूर्नामेंट में सुजीत ने 5 मैचों में कुल 4 मैच खेला था। जिनमें उन्होंने अपने टीम के खाते में 2 विकेट जोड़े। वहीं 2 मैचों में सुजीत अपने बल्ले से भी जादू करते भी दिखे थे। 2 मैच में बल्लेबाजी करने उतरे सुजीत ने टीम के खाते में 28 रन जोड़े थे। सुजीत के इस धमाकेदार प्रदर्शन से पूरे झारखंड का सीना गर्व से चौड़ा कर दिया था।

मुख्य अतिथि वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव और हॉकी इंडिया के महासचिव भोलानाथ सिंह ने इन सभी को सम्मानित किया। मौके पर वित्त मंत्री ने कहा कि मंराग गोमके जयपाल सिंह मुंडा एक विद्वान पुरूष थे। उनकी संविधान निर्माण भी अहम भूमिका है। उन्होंने ही संविधान में आदिवासी शब्द जोड़ने को कहा था, लेकिन संविधान निर्माताओं ने उस शब्द का इस्तेमाल नहीं कर एसटी शब्द का डाल दिया। मंत्री ने कहा कि वे एक अच्छे खिलाड़ी के साथ एक बेहतरीन पायलट भी थे। उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता।

उम्मीद फाउंडेशन के फाउंडर प्रेसिडेंट रितेश उरांव ने कहा कि इस अवार्ड्स के माध्यम से मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा के संघर्ष , त्याग, बलिदान और उनके जीवन गाथा को जन-जन तक पहुंचाना है और राज्य के माटी के विभूतियों को सम्मानित कर मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा के सपनो और उद्धेश्यों को साकार करना है। मौके पर झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष किशोर कुमार फाउंडेशन के सचिव निरंजन भारती, कोषाध्यक्ष राजेश टोप्पो, अंतू तिर्की, नंदलाल नायक,  समेत अन्य अतिथिगण उपस्थित रहे।

Find Us on Facebook

Trending News