अब वेंडर नहीं निकाल सकेंगे सिंलेडरों से गैस, अगले तीन माह में सभी सिलेंडरों में लगने जा रही है यह खास चीज, गैस चुराया तो आ जा जाएंगे पकड़ में

अब वेंडर नहीं निकाल सकेंगे सिंलेडरों से गैस, अगले तीन माह में सभी सिलेंडरों में लगने जा रही है यह खास चीज, गैस चुराया तो आ जा जाएंगे पकड़ में

DESK : एलपीजी गैस उपभोक्ताओं की अक्सर यह शिकायत होती है कि वेंडरों द्वारा डिलिवर किए गए सिलेंडरों में कम गैस होता है। जबकि पैसे पूरे देने पड़ते हैं। उपभोक्ताओं की इस बड़ी समस्या को लेकर अब केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्रालय गैस सिलेंडरों के साथ बड़ा बदलाव करने जा रही है। जिसके बाद दावा किया जा रहा है कि वेंडर अगर गैस निकालेगा तो उसे पकड़ना आसान हो जाएगा।

हर सिलेंडर का होगा अपना क्यूआर कोड

पेट्रोलियम मंत्रालय ने अब हर गैस सिलेंडर को क्यूआर कोड के साथ जोड़ने का फैसला किया है। जिससे गैस चोरी करने वालों को ट्रैक करने में आसानी होगी

अगर आप एलपीजी सिलेंडर (LPG Cylinder) का इस्तेमाल करते हैं, तो आपके लिए ये खबर बेहद जरूरी है. इसकी वजह ये है कि आपने भी कभी न कभी ऐसी स्थिति का सामना किया होगा जब आपके घर पर डिलीवर्ड हुए सिलेंडर में गैस कम निकली हो. अब इस तरह की चोरी नहीं हो सकेगी, इसके लिए सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. अब आपके घर QR कोड़ वाला सिलेंडर आएगा, जिससे गैस चोरी करने वालों को ट्रैक करने में आसानी होगी.

गैस चोरी करने वाले पकड़े जाएंगे

क्यूआर कोड से लैस सिलेंडरों से इस बात का पता आसानी से लगाया जा सकेगा कि इसमें कितने बार रिफलिंग (Gas Refilling) हुई है. इसके अलावा ये डाटा भी मौजूद रहेगा कि किस डीलर से किसे डिलीवरी की गई है। सिलेंडर में गैस कम आने जैसी लगातार मिल रही शिकायतों के बाद LPG Cylinder से गैस चोरी करने वालों पर शिकंजा कसने के लिए सरकार की ओर से ये बड़ा कदम उठाया जा रहा है। जाहिर है सरकार की ओर से की जा रही इस नई व्यवस्था से LPG Cylinder से गैस चोरी करने वाले लोगों में डर बढ़ेगा और वे ऐसा करने से तौबा कर लेंगे

. इससे सबसे बड़ा फायदा आम आदमी को होगा, क्योंकि गैस चोरी पर लगाम लगने से उन्हें पूरे पैसे देने पर पूरी गैस मिलेगी. फिलहाल, अगर कोई डिलीवरीमैन चुपके से आपके बुक किए गए सिलेंडर से गैस निकाल लेता है, तो आपको पता चलने पर उसे पकड़ना मुश्किल हो जाता है. लेकिन जब QR कोड से सिलेंडर लैस होगा, तो फिर गैस चोर बचकर भाग नहीं पाएंगे

आधार कार्ड की तरह करेगा काम

केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने इस बात की जानकारी साझा की है. उन्होंने कहा कि सरकार सभी एलपीजी गैस सिलेंडरों को क्यूआर कोड (QR Code) से लैस करने जा रही है. इससे उस गैस सिलेंडर की ट्रैकिंग आसान होगी और गैस चोरी करने वालों को पकड़ा जा सकेगा. दूसरे शब्दों में कहें तो ये क्यूआर कोड बिल्कुल उसी तरह से काम करेगा, जैसे एक इंसान के लिए आधार कार्ड काम करता है. यानी उस गैस सिलेंडर की पहचान बनेगा ये कोड

तीन महीने में सभी सिलेंडरों पर कोड

World LPG Week 2022 पर हरदीप सिंह पुरी ने इस प्रोजेक्ट के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि आने वाले तीन महीनों में सभी गैस सिलेंडरों पर QR Code लग जाएगा. यानी नए साल में फरवरी 2023 से आपके घर कोड वाला सिलेंडर डिलीवर्ड होगा और वो भी पूरा भरा हुआ।

Find Us on Facebook

Trending News