मोतिहारी में एसएफसी का अजीबोगरीब कारनामा, बिना नम्बर की गाड़ी से होती है राशन की ढुलाई

मोतिहारी में एसएफसी का अजीबोगरीब कारनामा, बिना नम्बर की गाड़ी से होती है राशन की ढुलाई

MOTIHARI : जिले में एसएफसी गोदाम का अजीबोगरीब कारनामा सामने आया है। मिली जानकारी के मुताबिक एसएफसी पदाधिकारी व कर्मियों के मिलीभगत से बड़ा खेल हो रहा है। नियम को ताक पर रखकर बिना नम्बर के गाड़ी पर देर शाम डीलर के नाम पर सैकड़ो क्विंटल राशन भेजा गया। मामला अरेराज एसएफसी गोदाम का बताया जा रहा है। बिना नम्बर प्लेट की गाड़ी से राशन भेजने से गड़बड़ी से इंकार नही किया जा सकता।

अरेराज एसएफसी गोदाम से रात्रि में भी राशन लोड कर डीलर के यहां भेजा जाता है। इस गोदाम के लिए कोई नियम कानून नहीं है। बुधवार की देर शाम बिना नम्बर प्लेट लगे गाड़ी से राशन ढुलाई का काम किया जा रहा था। गाड़ी पर न आगे नम्बर प्लेट लगा था नही पीछे लगा था। गाड़ी के साइड में छोटा अक्षरों में डोर स्टेप ढुलाई बिहार राज्य खाद निगम लिखा था कि कोई पढ़ नही सकता था। ड्राइवर ने बताया कि गाड़ी लेट से लोड होने के करण समस्या हुई है। वही गोदाम कर्मी द्वारा बताया गया कि गोदाम पर देर से माल पहुँचने के कारण देरी हुई है। डीलर को वितरण के लिए माल भेजना था इस लिए देर से भेजा गया है।

विभागीय सूत्रों के अनुसार नियम के अनुसार 5 बजे तक ही डीलर को डिलेवरी करने के लिए माल लोड किया जाता है। लेकिन अरेराज एसएफसी गोदाम पर सभी नियम को ताक पर रखकर देर शाम में गोदाम पर गाड़ी लोड किया जाता है। डीएम एसएफसी मनोज कुमार ने बताया कि गोदाम पर माल देरी से पहुचने व डीलर के यहा राशन अनिवार्य रूप से पहुचाने के कारण साढ़े 5 बजे गोदाम से माल लोड कर डीलर के यहां भेजा गया है। गाड़ी पर लगे जीपीएस से एसाईओ कटे डीलर का माल उसके दरवाजे पर उतरना बताया जा रहा है। रात्रि होने के कारण गाड़ी का नम्बर प्लेट दिखाई नही दे रहा होगा। दिन में गाड़ी का नम्बर प्लेट दिख जाएगा।

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News