नीतीश राज के 9 सालों में सब-रजिस्ट्रार ने कमाए 15 करोड़, SVU की रेड में काली कमाई की खुली पोल

नीतीश राज के 9 सालों में सब-रजिस्ट्रार ने कमाए 15 करोड़, SVU की रेड में काली कमाई की खुली पोल

PATNA : समस्तीपुर के सब रजिस्टार मणि रंजन के खिलाफ विशेष निगरानी इकाई ने आय से अधिक संपत्ति जमा करने का मामला दर्ज किया है। उन पर आरोप है कि सरकारी सेवा में रहते हुए उन्होंने नाजायज ढंग से अकूत संपत्ति अर्जित की है जो उनके द्वारा प्राप्त वेतन एवं अन्य ज्ञात की तुलना में बहुत ही अधिक है। किसी आरोप पर कुल 1,62,36, 962 गैरकानूनी और नाजायज ढंग से अर्जित संपत्ति करने के कारण कांड संख्या 6/ 21 दर्ज किया गया है। अभियुक्त के खिलाफ तीन जगह पटना, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर में छापेमारी की जा रही है।

पटना स्थित आवास की तलाशी के दौरान लगभग 60 लाख नगद, 32 लाख रूपये का एक फ़्लैट का दस्तावेज, पत्नी सुनीता के नाम पर 5.5 लाख का एक प्लॉट, डेढ़ करोड़ रुपए का ढाई कट्ठा जमीन, ससुर के नाम पर एक फ्लैट पटना में अर्जित किया गया है। अर्जित संपत्ति में कई लाख की ज्वेलरी, फिक्स डिपाजिट भारतीय जीवन बीमा और रियल एस्टेट के साथ अन्य में निवेश के प्रमाण मिले हैं। आरोपी के पास कई पासबुक जिसमें एसबीआई, आईसीआईसीआई, इंडियन बैंक, सेंट्रल बैंक, स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक में कई फिक्स डिपाजिट प्रीमियम 5 लाख रूपये का भारतीय जीवन बीमा का, टाटा फाइनेंस, आईसीआईसीआई, एचडीएफसी तथा रियल एस्टेट में निवेश के प्रमाण मिले हैं।

कागजातों के अनुसार आरोपों की पुष्टि होने के साथ यह पता चलता है कि उनके द्वारा अर्जित की गई संपत्ति लगाए गए आरोप से लगभग 2 गुना है। अभियुक्त के समस्तीपुर आवाज से डेढ़ लाख रुपए नगद, 8 लाख के कागजात उस गाड़ी जिसमें स्कॉर्पियो, मांजा, होंडा मोटर निक्सन है. वही मुजफ्फरपुर स्थित आवास पर 12 लाख रूपये नगद, ब्रह्मपुरा में करोड़ों रुपए का 21 कमरे का विनायक होटल फाइनल स्टेज में है।  पारस मॉल में 22 लाख रुपए का दुकान जिसमें दो सैलून चल रहा है।  एक कंपनी जग्गू शाह नाम से चल रहा है। कटिहार में 3 प्लाट और 3 दुकान है, जहाँ वे पदस्थापित थे। यहां तक की अपने ड्राइवर के नाम पर 2 लाख रूपये इनकम टैक्स रिटर्न भरते आ रहे हैं।

विवेकानंद की रिपोर्ट  

Find Us on Facebook

Trending News