शराब माफियाओं के मैसेज से केके पाठक का फोन करने लगा हैंग, अधिकारी ने दी जानकारी

शराब माफियाओं के मैसेज से केके पाठक का फोन करने लगा हैंग, अधिकारी ने दी जानकारी

पटना. बिहार में शराबबंदी को लेकर उत्पाद विभाग एक्शन मोड में है. शराब पर रोक लगाने के लिए विभाग द्वारा किये जा रहे कामों को विभाग के अयुक्त डी कार्तिकेय धनजी ने जानकादी दी. उन्होंने कहा कि विभाग शराब की होम डिलीवरी पर रोकर लगाने के लिए विभाग मुस्तैदी से काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि बिहार में 31 लीगल कंसल्टेंट विधि परामर्शी की बहाली हुई है. इससे मद्य निषेध से जुड़े मामलों की सुनवाई में तेजी आएगी.

कार्तिकेय धनजी ने कहा कि न्यायालयों में बढ़ते मामलों और अनुसंधान में तेजी तेजी लाने के लिए कार्यालय और न्यायालय के बीच समन्वय बने हैं. जल्द ही ट्रायल पूरा कर दोषियों को सजा मिलेगी. उन्होंने कहा कि शराब कारोबारियों और तस्करों पर लगाम लगाने के लिए विभाग जल्द ही आसमानों से ड्रोन के जरिए निगरानी करेगी. उन्होंन कहा कि जिलो में विभाग की ओर से रेड और कार्रवाई को लेकर वाहनों की व्यवस्था के लिए मद्य निषेध विभाग ने सरकार से मांग की थी, उसे सरकार ने उपलब्ध करवाया है. वहीं जिलो में एन्टी लिकर टास्कफोर्स के लिए डीएम और एसपी निर्देश दिये गये हैं.

केके पाठक के फोन में मैसेज की भरमार

उन्होंने कहा कि शराबबंदी को बिहार में पूरी तरह सफल बनाने के लिए मद्य निषेध विभाग के अपर मुख्य सचिव अपनी पूरी ताकत झोंक दी हैं. वहीं लगातार कार्रवाई से शराब माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है. वहीं मद्य निषेध विभाग के अधिकारियों ने बताया कि शराब कारोबार को लेकर मद्य निषेध विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के मोबाइल पर लगातार मैसेज आ रहा है. मोबाइल पर मैसेज के भरमार के चलते उनका फोन हैंग कर रहा है. लोगों को शराब की सूचना पहुंचाने के लिए केके पाठक ने अपने मोबाइल का व्हाट्सएप नंबर दिया था.


Find Us on Facebook

Trending News