बुरे फंसे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और मंत्री इसराइल मंसूरी, न्यायालय में दर्ज हुआ परिवाद, लगा है बेहद गंभीर आरोप

बुरे फंसे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और मंत्री इसराइल मंसूरी, न्यायालय में दर्ज हुआ परिवाद, लगा है बेहद गंभीर आरोप

पटना.  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और मंत्री इसराइल मंसूरी सहित 7 लोगों के खिलाफ मुजफ्फरपुर में परिवाद दायर किया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाया गया है उन्होंने गया कि विष्णुपद मंदिर में गैर हिंदू को प्रवेश कराया जो नियम विरुद्ध है। इससे करोड़ों हिंदुओ की भावना आहत हुई है।

परिवाद दायर करने वाले आचार्य चंद्र किशोर पाराशर ने न्यायालय मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी मुजफ्फरपुर में कहा है कि 22 अगस्त को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गया स्थित विष्णुपद मंदिर में पूजा अर्चना करने गए थे। इस दौरान उनके साथ बिहार सरकार में सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री मोहम्मद इसराइल मंसूरी भी थे जो एक मुस्लिम हैं। उन्होंने कहा है कि मान्यताओं के अनुसार और मंदिर प्रबंधन समिति के नियमों के मुताबिक विष्णुपद मंदिर गया में हिंदू व्यक्ति का ही प्रवेश दिया जाता है। लेकिन मुख्यमंत्री एवं मंत्री मंसूरी धर्म विरोधी हरकत करते हुए गैर हिंदुओं की प्रवेश के लिए वर्जित विष्णुपद मंदिर में प्रवेश दिलाया। 

 इससे हजारों हिंदुओं की भावना आहत हुई है तथा ऐसा जानबूझकर उन्होंने षड्यंत्र से किया। इसी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, मंत्री मंसूरी, सहित विष्णुपद मंदिर प्रबंध समिति के कार्यकारी अध्यक्ष और सचिव तथा गया के आरक्षी अधीक्षक, अनुमंडलादधिकारी, गया पुलिस चौकी प्रभारी के खिलाफ परिवाद दायर हुआ है।

गौरतलब है कि विवाद बढने के बाद गया के मंदिर का शुद्धिकरण भी हुआ था. हालांकि मंसूरी की ओर से इस पर अभी तक माफी नहीं मांगी गई है. 


Find Us on Facebook

Trending News