बिहार बीजेपी ने क्लीयर किया अपना स्टैंड,कहा- कार्यकर्ताओं की मनोभावना और पार्टी का आधिकारिक स्टैंड अलग-अलग

बिहार बीजेपी ने क्लीयर किया अपना स्टैंड,कहा- कार्यकर्ताओं की मनोभावना और पार्टी का आधिकारिक स्टैंड अलग-अलग

PATNA:  बीजेपी-जेडीयू नेताओं में जारी तकरार के बीच बिहार बीजेपी ने अपना स्टैंड क्लीयर कर दिया है।बिहार भाजपा ने कहा है कि बीजेपी-जेडीयू में कोई विवाद नहीं है। भाजपा एनडीए गठबंधन के सहयोगियों व उनके नेताओं का सम्मान करती है। पार्टी हमेशा गठबंधन धर्म निभाते रही है।लेकिन जनभावना प्रकट करना,कार्यकर्ताओं को अपनी मनोभावना प्रकट करना और किसी भी पार्टी के आधिकारिक स्टैंड को प्रकट करना पूरी तरह से अलग है।

बिहार बीजेपी प्रवक्ता डा. निखिल आनंद ने कहा कि भाजपा सुशासन, न्याय एवं विकास के एजेंडे पर राजनीति करती है। यही हमारे एनडीए गठबंधन की बुनियाद भी है। बिहार के विकास के लिए हमने नीतीश कुमार के नेतृत्व में सरकार बनाया है। जेडीयू व लोजपा के साथ गठबंधन सभी दलों के केंद्रीय नेतृत्व द्वारा लिया गया सामूहिक फैसला है।

बता दें कि सोमवार को बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता संजय पासवान ने यह कहकर सियासी बवाल खड़ा कर दिया था कि अब जेडीयू को बिहार की गद्दी भाजपा को सौंप देनी चाहिए।इतना हीं नहीं पासवान ने दो कदम आगे बढ़ते हुए यहां तक कह दिया कि नीतीश कुमार दिल्ली चले जायें।मतलब साफ है कि अब सत्ता की भागीदारी से अलग कुर्सी की जिम्मेदारी भाजपा लेने पर अड गई है।संजय पासवान के बयान के बाद बवाल मचा है।जेडीयू ने इस बयना पर कड़ी आपत्ति दर्ज की है।पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने स्पष्ट कर दिया है कि नेताओं को बयान देने से पहले समझना होगा। जेडीयू महासचिव ने कहा कि नीतीश कुमार किसी के रहमोकरम से बिहार के मुख्यमंत्री नहीं हैं। 

Find Us on Facebook

Trending News