रघुवंश बाबू मामले पर चौरतफा घिरे लालू परिवार के समर्थन में उतरे पप्पू यादव, कहा रघुवंश बाबू की लाश पर राजनीति कर रहे हैं नीतीश कुमार

रघुवंश बाबू मामले पर चौरतफा घिरे लालू परिवार के समर्थन में उतरे पप्पू यादव, कहा रघुवंश बाबू की लाश पर राजनीति कर रहे हैं नीतीश कुमार

DESK: रघुवंश बाबू के निधन से पहले तो वो बिहार में राजनीति का केंन्द्र थे ही और अब उनके निधन के बाद भी उनपर बयानबाजी की जा रही है. अपने अंतिम वक्त में जब उन्होंने राजद से इस्तीफा दिया तो जदयू की ओर से डोरे डाले गए. चर्चा होनी शुरु हो गी कि वो किस ओर जाऐंगे लेकिन अचानक से उनकी तबीयत बिगड़ी और फिर वो यह दुनिया ही छोड़ कर चले गए. उनके निधन के बाद भी लालू परिवार ही निशाना बना हुआ है. 

वहीं दूसरी तरफ जाप संरक्षक पप्पू यादव लालू यादव और उनके परिवार के समर्थन में उतर गए हैं. लालू यादव पर बोलते हुए पप्पू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार रघुवंश बाबू की लाश पर राजनीति कर रहे हैं. लालू ने रघुवंश को जितना सम्मान दिया नीतीश सात जन्म में भी नहीं दे सकते हैं. पप्पू यादव ने कहा कई नेताओं ने  नीतीश कुमार को भी लेकर लिखा है पत्र. लालू के बाद राजद में मुख्यमंत्री बनने की योग्यता केवल रघुवंश बाबू में थी

मालूम हो कि रघुवंश बाबू के निधन के बाद से ही राजद पर बीजेपी और जदयू हमलावर है. बीजेपी पार्टी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि जिंदा रहते रघुवंश प्रसाद को लोटा भर पानी बताया और आज उनके जैसे विद्वान व्यक्ति की लेखनी पर सवाल खड़े कर रहे हैं. रघूवंश बाबू की आह से आरजेडी बर्बाद हो जाएगा. नीरज ने कहा कि ऐसे बयान देते हुए भी राजद के नेताओं को शर्म आनी चाहिये. आरजेडी नेताओं ने जीते जी उनका ख्याल नहीं रखा. अब उनके निधन के बाद ऐसे सवाल उठाकर और छोटा कर रहे हैं.

यही नहीं जीतनराम मांझी ने तो यहां तक कह दिया रघुवंश बाबू की साजिशन हत्या की गई है.जीतन राम मांझी ने कहा कि तेजप्रताप ने रघुवंश प्रसाद सिंह के आरजेडी से जाने को तुलना समुंद्र से लोटा भर पानी निकलने से की थी. रघुवंश बाबू इस बयान की पीड़ा सह नहीं पाए. जिसने पार्टी को 35 सालों तक सींचा उसे अगर लोटा भर पानी समझा जायेगा वो सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाएगा. 


Find Us on Facebook

Trending News