धान-गेंहू की कई प्रजाति के फसल उगाने वाले इस किसान से मिलिए, इलाके के लिए बन गए हैं उदाहरण

धान-गेंहू की कई प्रजाति के फसल उगाने वाले इस किसान से मिलिए, इलाके के लिए बन गए हैं उदाहरण

BETTIYA : गेंहू के आम तौर पर गोल्डेन कलर वाले दाने ही सबसे ज्यादा नजर आते हैं, लेकिन पश्चिम चंपारण के एक किसान इस परंपरा को तोड़ रहे हैं। वह अपने खेत में न सिर्फ परंपरागत गेहूं उपजा रहे हैं, बल्कि उसके साथ काले गेहूं, काला चावल, लाल चावल, हरा चावल, सोनामोती गेंहू सहित अनेक प्रकार के रंगों वाले फसल लगा रहे हैं। खेती में उनकी यह कार्यकुशलता इलाके में उदाहरण बनने लगी है।

पश्चिम चंपारण में रहनेवाले इस किसान का नाम है विजय गिरि। अधिक उम्र हो गई है, लेकिन खेती किसानी में उनकी जीवटता देखते ही बनती है। उनकी देख रेख में काला चावल,काला गेहूं,लाल चावल,हरा चावल,सोनामोती गेंहू सहित अनेकों प्रभेद को उनके द्वारा पश्चिम चंपारण में पहली बार किया जा रहा है। आसपास के किसानों को मुफ्त में बीज भी दिया जाता है साथ ही तकनीकी सहयोग भी किया जाता है।

उनके ग्रामीण आवास पर अपने मित्र प्रखंड उद्यान पदाधिकारी अमरदीप राई जी के साथ  कई माह के बाद अच्छे वातावरण में मुलाकात हुई एवं भोजन के साथ साथ खेती बाड़ी के कई मुद्दों पर विचार विमर्श हुआ। आने वाले समय मे आप किसानों के प्रेरणास्रोत बनेंगे।


Find Us on Facebook

Trending News