लड़की ने की आत्महत्या, पुलिस पर लगा आरोप, परिजनों ने थाने का घेराव कर जमकर किया हंगामा

लड़की ने की आत्महत्या, पुलिस पर लगा आरोप, परिजनों ने थाने का घेराव कर जमकर किया हंगामा

Desk: उत्तर प्रदेश के जालौन में पुलिस की पिटाई से दुखी होकर एक लड़की ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. आत्महत्या करने की जानकारी जब परिजनों को हुई तो उन्होंने कोतवाली में जाकर हंगामा किया. साथ ही पिटाई करने वाले दोषी दारोगा के खिलाफ एक्शन लेने की मांग की. हंगामे को देखते हुए सीओ मौके पर पहुंचे और उन्होंने परिजनों को इस मामले में जांच का भरोसा दिलाया.

यह मामला जालौन के उरई कोतवाली क्षेत्र के नया रामनगर का है. जहां पर शुक्रवार रात कल्लू चौधरी की 22 साल की लड़की नीशू ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. शनिवार सुबह जब परिजनों ने उसे फंदे पर झूलता देखा और नीचे उतार कर अस्पताल ले गए. लेकिन डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया. जवान लड़की की मौत से आक्रोशित होकर परिजनों ने कोतवाली का घेराव कर पुलिस के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया.

परिजनों का कहना है कि शुक्रवार की दोपहर को मृतक नीशू बाजार गई थी, जहां बलदाऊ चौक के कुछ दुकानदारों ने उस पर पासपोर्ट चोरी का आरोप लगाते हुए उसे और उसकी दो सहेलियों के साथ पकड़ लिया था और दारोगा योगेश पाठक को बुलाकर उन्हें सौंप दिया. पुलिस सभी को कोतवाली ले गई और पूछताछ के बाद तीनों को परिजनों के हवाले कर दिया.

परिजनों ने बताया कि कोतवाली में तैनात दारोगा योगेश पाठक ने नीशू की पासपोर्ट चोरी के इल्जाम में जमकर पिटाई की थी. जबकि महिला को सिर्फ महिला पुलिस को ले जाने का अधिकार है. लेकिन दारोगा योगेश पाठक ने नीशू की पिटाई की, जिससे वो सदमे में आ गई और तनाव में रहने लगी. फिर उसने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली. वहीं परिजनों ने बताया कि शनिवार को फिर उसे कोतवाली बुलाया गया था. इसी बात को लेकर नीशू तनाव में थी.


Find Us on Facebook

Trending News