एक माह पहले नेपाल से आये गैंडे की वीटीआर में हुई मौत, जांच में जुटे वन अधिकारी

एक माह पहले नेपाल से आये गैंडे की वीटीआर में हुई मौत, जांच में जुटे वन अधिकारी

BAGAHA : नेपाल के चितवन से भारत के वाल्मीकि टाइगर रिजर्व में आए गेंडे की मौत हो गई है। जिसका शव गोनौली वन क्षेत्र के चंपापुर गांव में मंगलवार को खेत में पड़ा मिला। मौत की सूचना पर टाइगर रिजर्व के सभी अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचकर गेंडे की मौत के कारणों का पता करने में लगे हुए हैं। वाल्मीकिनगर वन संरक्षक डॉक्टर नेसमनी ने बताया कि गेंडे की मौत के कारणों का अब तक पता नहीं चल पाया है। अधिकारी मौत के कारणों का पता कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि नेपाल से आया गेंडा करीब 15 दिन पहले उत्तर प्रदेश के तरफ चला गया था। वहां पर इसकी एक्टिविटी बनी हुई थी। आज मौत की सूचना मिली है। 

नेपाल के चितवन से 20 जनवरी को आया था गैंडे 

विगत 20 जनवरी को नेपाल से आए इस गैंडे की मेहमानवाजी में पूरा वीटीआर प्रशासन लगा हुआ था। आने के साथ ही गेंडा ने एक व्यक्ति को मारकर घायल भी कर दिया था। जिसके बाद वीटीआर से निकलकर यूपी के रिहायशी क्षेत्र में पहुंच गया था।

10 फरवरी को पहुंचा था यूपी

वन पदाधिकारी ने बताया कि 10 फरवरी को गेंडा यूपी के खड्डा वनक्षेत्र में कोहरगद्दी व दरबहा गंगाछापर गांव के सरेह में एक गन्ने के खेत में देखा गया था। यहां भी गन्ना काट रहे एक किसान को घायल कर दिया था। यूपी में गेंडे ने बहुत उत्पात मचाया था। जिसका एक वीडियो लोगों ने बना कर वायरल भी किया। इस वीडियो में गेंडा को लोग भगाते नजर आए।

बगहा से माधवेन्द्र पाण्डेय की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News